Alert In Uttarakhand: उत्तराखंड में तेज बारिश (Rainfall In Uttarakhand) के कारण राज्य में अलर्ट जारी कर दिया गया है. साथ ही लोगों को बेवजह यात्रा न करने की हिदायत दी गई है. यहां चारधाम की यात्रा को भी बंद कर दिया गया है. इसी कड़ी में नैनीताल के रामगढ़ गांव में बादल फटने (Cloudburst) का मामला सामने आया है. यहां लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है. घटनास्थल पर पुलिस व प्रशासन की टीमें पहुंच गई हैं और राहत बचाव का कार्य जारी है.Also Read - तमिलनाडु में सामान्य से 68 फीसदी ज्यादा बारिश, 10 हजार लोग 220 राहत शिविरों में

वहीं हल्द्वानी में गौला नदी पर बने पुल पर बड़ा गड्ढा बन गया है. इस बीच कई गाड़ियां पुल पर आ रही थीं. इस बीच एक मोटर साइकिल सवार लोगों को चिल्ला-चिल्लाकर अलर्ट करता दिखाई दे रहा है. बता दें कि बढ़ते जलस्तर के कारण पुल पर गड्ढा बन गया है. ऐसे में एक तरफ से दूसरी तरफ आ रहे लोग सावधान हो गए हैं और वो पुल पार न करते हुए वापस लौट रहे हैं. Also Read - Bihar Weather Update: बिहार में सर्दी दे रही दस्तक, जानें कैसा रहेगा मौसम, कहां होगी बारिश

बता दें कि सोमवार के दिन उत्तराखंड में भारी बारिश के कारण नेपाली मूल के तीन मजदूरों की मौत हो गई है. राज्य में भारी बारिश हो रही है और ऊंची पहाड़ियों पर बर्फबारी देखने को मिल रही है. बता दें कि इस कारण राज्य में चारधाम की यात्रा को बंद कर दिया गया है. पौड़ी जिले में लैंसडौन क्षेत्र में समखाल में भारी बारिश के चलते खेत का मलवा मजदूरों के टैंट पर आ गिरा. इससे तीन लोगों की मौत हो गई और 2 अन्य लोग घायल हो गए. पौड़ी जिले के जिलाधिकारी वीके जोगदंडे ने बताया कि घायलों को उपचार के लिए कोटद्वार भेजा गया है. बता दें कि ये मजदूर एक होटल में कार्यरत थे और वहीं टेंट लगाकर रहते थे. Also Read - Uttarakhand Flood: उत्तराखंड में बारिश बनी आफत, अबतक 40 लोगों की हुई मौत, वायुसेना हेलीकॉप्टर से कर रही रेस्क्यू