आलिया भट्ट की मां ने अफजल गुरु को बताया 'बलि का बकरा', मचा बवाल

सोनी ने अफजल के बचाव में ट्वीट और उसे बलि का बकरा बता दिया. सोनी ने लिखा न्याय का मजाक है. कौन मरे हुए इंसान को जिंदा कर वापस ला सकता है.

Published: January 21, 2020 3:02 PM IST

By India.com Hindi News Desk | Edited by Avinash Rai

आलिया भट्ट की मां ने अफजल गुरु को बताया 'बलि का बकरा', मचा बवाल
सोनी राजदान और आलिया भट्ट

नई दिल्ली: कश्मीर से डीएसपी दविंदर सिंह के पकड़े जाने के बाद अफजल गुरु मामले में एक के बाद एक कई बातें सामने आईं. इस बीच मशहूर अभिनेत्री सोनी राजदान (Soni Razdan) ने अफजल गुरु के मौत पर सवाल उठाकर एक बड़े विवाद को जन्म दे दिया. सोनी राजदान आलिया भट्ट की मां हैं. गौरतलब है कि भारतीय संसद हमले में अफजल गुरु को दोषी पाया गया था. अफजल गुरु को 9 फरवरी 2013 को फांसी की सजा दी गई थी. इसी मामले पर ट्वीट कर आलिया भट्ट की मां सोनी राजदान ने विवाद खड़ा कर दिया है.

Also Read:

सोनी ने अफजल के बचाव में ट्वीट और उसे बलि का बकरा बता दिया. सोनी ने लिखा न्याय का मजाक है. कौन मरे हुए इंसान को जिंदा कर वापस ला सकता है. यही वजह है कि मौत की सजा को हल्के में नहीं लेना चाहिए. अफजल गुरु को बलि का बकरा बनाया गया या नहीं इसके लिए ठोस जांच करने की जरूरत है.

हालांकि उनके ट्वीट करने के तुरंत बाद मामले ने तूल पकड़ लिया. कई लोग उनके पक्ष में खड़े दिखे तो कई लोग उन्हें ट्रोल करने लगें. हालांकि बाद में अपने बयान को बदलते हुए सोनी ने अपने ट्वीट को स्पष्ट किया और लिखा- कोई भी यह नहीं कह रहा कि अफजल गुरु निर्दोष है. लेकिन उसे प्रताड़ित किया गया. टॉर्चर करने वाले की तरफ से आदेश दिया गया इसकी परी जांच होनी चाहिए. देविंदर सिंह के बारे में उसके आरोपो को किसी ने गंभीरता से क्यों नहीं लिया.

बता दें कि अपने वकील को लिखे पत्र में अफजल ने दविंदर पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया था. उन्होंने लिखा कि दविंदर ने उन्हें हमले में शामिल आतंकवादियों में से एक मोहम्मद से मिलवाया और मोहम्मद को दिल्ली घुमाने और उन्हें राष्ट्रीय राजधानी में किराए पर रहने की “छोटी नौकरी” के साथ काम सौंपा.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें मनोरंजन की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: January 21, 2020 3:02 PM IST