श्रीनगर/ नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर के बडगाम जिले में भारतीय वायुसेना के एक विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने के फौरन बाद बुधवार को श्रीनगर, जम्मू एवं लेह हवाईअड्डों समेत पांच हवाईअड्डों पर व्यावसायिक विमानों की आवाजाही को फिर से चालू कर दिया गया है. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. भारतीय वायुसेना के पाकिस्तान में आतंकी ठिकानों पर हमला करने के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़े तनाव को देखते हुए इन पांच हवाईअड्डों को बंद किया गया था.
एअरलाइन अधिकारियों के मुताबिक चंडीगढ़ और अमृतसर के हवाईअड्डों को भी बंद कर दिया गया था, जिसे खोल दिया गया.

श्रीनगर में भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) के एक अधिकारी ने कहा, आपात स्थिति को ध्यान में रखते हुए व्यावसायिक विमानों की आवाजाही को अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया गया था. हालांकि, अधिकारी ने आपात स्थिति की प्रकृति के बारे में नहीं बताया लेकिन माना जा रहा है कि बुधवार सुबह बडगाम जिले में भारतीय वायुसेना के विमान के दुर्घटनाग्रस्त हो जाने के मद्देनजर यह कदम उठाया गया था.

विमानों को वापस भेजा गया
अधिकारियों ने बताया कि उन्हें हवाई यातायात नियंत्रकों से निर्देश प्राप्त हुए हैं कि हवाईअड्डों को व्यावसायिक उड़ानों के लिए बंद कर दिया गया था. उन्होंने बताया कि जम्मू, लेह और श्रीनगर हवाईअड्डों की तरफ जा रहे कुछ विमानों को वापस उन हवाईअड्डों पर भेज दिया गया है जहां से उन्होंने उड़ान भरी थी. नियंत्रण रेखा के दोनों तरफ से गोलाबारी बढ़ जाने से सुरक्षाबलों और अन्य प्रतिष्ठानों को हाई अलर्ट पर रखा गया है. यह गोलाबारी पाकिस्तानी सेना की ओर से बुधवार तड़के शुरू की गई.