नई दिल्‍ली: जम्‍मू-कश्‍मीर में 18 घंटे के अंदर 7 आतंकवादियों को ढेर करने के बाद इंडियन आर्मी ने सभी नए आतंकियों से अपील की है कि जिन्‍होंने आतंक संगठन ज्‍वाइन किए हैं, उन्‍हें सरेंडर कर देना चाहिए. हम उनके सरेंडर में सभी तरह की मदद करेंगे और उन्‍हें जीवन में आगे बढ़ने और नॉर्मल जिंदगी जीने के लिए बाद में भी मदद करेंगे. यह बात आज शनिवार को ब्रिगेडियर अजय काटोच ने कही है. Also Read - Filmcity in Kashmir!: UP में Filmcity बनाए जाने पर शिवसेना का तंज- 'कश्मीर में फिल्मसिटी बना कर दिखाए मोदी सरकार'

जम्मू-कश्मीर में जनरल ऑपरेशन कमांडिंग (GOC) ए. सेनगुप्ता ने बताया कि जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस और RR बटालियन के कल शुक्रवार को दोपहर से जारी 2 ज्वाइंट ऑपरेशन्स में 18 घंटों की कार्रवाई के दौरान हमने 7 आतंकियों को मार गिराया और 1 आतंकी ने सरेंडर किया है. Also Read - जम्मू-कश्मीर: एडवोकेट बाबर कादरी की हत्या, आतंकियों ने मारी गोली

J&K GOC, विक्टर फोर्स सेनगुप्‍ता ने कहा कि 8 आतंकवादियों में से 7 को 2020 में भर्ती किया गया था. इन गुमराह युवाओं को पाकिस्तानी आतंकवादियों, पाकिस्तानी संचालकों और देश विरोधी भावना वाले लोगों द्वारा झूठे वादों के साथ भर्ती किया गया था. Also Read - Jammu & Kashmir: आतंकवादियों ने जम्मू-कश्मीर के बडगाम में बीडीसी सदस्य की गोली मारकर की हत्या

पुलवामा में आज मुठभेड़ तीन आतंकवादी ढेर
बता दें कि जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में शनिवार को एक मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए और सेना का एक जवान शहीद हो गया. आतंकवादियों के छिपे होने की गुप्त सूचना पर दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले के जादूरा में इलाके को घेर कर तलाश अभियान चलाया था. इस दौरान आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलीबारी शुरू कर दी इसके बाद यह अभियान मुठभेड़ में तब्दील हो गया. मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए. इस मुठभेड़ में सेना का एक जवान गंभीर रूप से घायल हो गया और बाद में उसकी मौत हो गई.

एक दिन पहले शोपियां जिले में चार आतंकी मारे थे
वहीं, कल शुक्रवार को जम्मू कश्मीर के शोपियां जिले में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में चार आतंकवादी मारे गए जबकि एक ने आत्मसमर्पण कर दिया. मारे गए आतंकवादियों में एक पुलिस का पूर्व जवान था. मारे गए आतंकवादियों में एक शकूर पार्रे जम्मू कश्मीर पुलिस का पूर्व जवान और अल-बद्र संगठन का जिला कमांडर था. एक अन्य आतंकवादी एक पंच की हत्या में भी शामिल था.