वॉशिंगटन: अमेरिकी कॉरपोरेट जगत ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पहली बार पेश किए गए बजट की शुक्रवार को प्रशंसा करते हुए इसे समावेशी और विदेशी निवेश के लिए आकर्षक बताया. अमेरिका-भारत सामरिक और साझेदारी मंच (यूएसआईएसपीएफ) के अध्यक्ष मुकेश अघी ने कहा कि बजट समावेशी है और नीतिगत फैसले अमेरिकी कंपनियों को प्रोत्साहित करने वाले हैं.

बजट पेश होने के बाद बढ़ी पेट्रोल-डीजल की कीमतें, पेट्रोल 2.45 रुपए तो डीजल 2.36 रुपए महंगा

उन्होंने कहा कि यह ‘एप्पल’ जैसी कंपनियों के लिए ‘‘अच्छी खबर’’ है. यह बजट भारतीय बाजार को मुक्त बनाता है और अमेरिकी कंपनियों को और निवेश करने के लिए प्रोत्साहित करता है. साथ ही यह निचले वर्ग की समृद्धि और विकास सुनिश्चित करता है. अघी ने कहा कि बजट में सकारात्मक संचरनात्मक बदलावों की कोशिश की गई है. अमेरिका-भारत व्यापार परिषद की अध्यक्ष निशा देसाई बिस्वाल ने कहा, ‘हम 2019-2020 बजट को देखकर खुश हैं जो मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के दूरगामी एवं सुधारवादी दृष्टिकोण को दिखाता है.’

ममता बनर्जी ने बजट पर साधा निशाना, कहा- छा जाएगी महंगाई, ये है चुनाव का गिफ्ट

उन्होंने कहा कि यूएसआईबीसी किसानों की आय को दोगुना करने, कई क्षेत्रों में एफडीआई को उदार बनाने और एफपीआई निवेश सीमा बढ़ाने के लिए सक्रिय कदमों का स्वागत करता है. ‘अमेरिका-इंडिया चैम्बर ऑफ कॉमर्स’ के अध्यक्ष करुण ऋषि ने कहा, ‘‘यह दूरदृष्टि बजट है जिसमें तत्काल प्राथमिकताओं को ध्यान में रखते हुए दीर्घकालिक 10 वर्षीय योजना पेश की गई है.’