नई दिल्ली: देश में कोरोना के लगातार तेजी से मामले सामने आ रहे हैं. आज कोरोना के आंकड़े सबसे अधिक चौकाने वाले थे. पिछले 24 घंटे में कोरोना के करीब 25 हजार नए मामले सामने आए. दिल्ली इस समय कोरोना संक्रमित राज्यों में सबसे आगे पहंच गया है. राजधानी दिल्ली में इस समय करीब एक लाख कोरोना संक्रमित लोग है. भविष्य में दिल्ली की हालत और अधिक न बिगड़े इसके लिए केंद्र और राज्य सरकार दोनों से लगातार कोशिश कर रही हैं. Also Read - अमित शाह के बाद केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी कोरोना पॉजिटिव, अस्पताल में भर्ती

दिल्ली में कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए सरकार तेजी से अस्थाई बेड वाले अस्पतालों का भी निर्माण करा ही है. इस बीच रक्षा संस्थान डीआरडीओ (DRDO) ने एक हजार बेड वाले अस्थाई अस्पताल का निर्माण किया है. रविवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh)और गृह मंत्री अमित शाह (Union Home Minister Amit Shah) ने DRDO द्वारा तैयार सरदार बल्लभ भाई पटेल कोविड-19 अस्पताल का दौरा किया. Also Read - 'दुबई में आईपीएल आयोजन की अनुमति ना दें केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह'

निरीक्षण के दौरान गृहमंत्री और रक्षा मंत्री के साथ मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (Health and Family Welfare Minister Harsh Vardhan) और डीआरडीओ चीफ जी सतीश रेड्डी भी मौजूद रहे. बता दें कि DRDO ने इस अस्थाई अस्पताल को दिल्ली के कैंट इलाके में बनाया है. इसमें कोरोना मरीजों के लिए एक हजार बेड्स की व्यवस्था की गई है.

डिफेंस मिनिस्टर राजनाथ सिंह ने जानकारी दी कि इस अस्थाई अस्पाताल को डीआरडीओ और दूसरे कई संगठनों की मदद से एक हजार बेड के अस्पताल का निर्माण किया गया. उन्होंने जानकारी दी कि इस अस्पातल में 230 ICU बेड्स की सुविधा उपलब्ध है. उन्होंने बताया कि इस अस्पताल को मात्र 12 दिनों में तैयार किया गया है.