नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनाव में सघन प्रचार कर रहे गृह मंत्री अमित शाह लगातार अपनी सभाओं में शाहीन बाग को मुद्दा बनाते रहे हैं. रविवार को दिल्ली के रोहतास नगर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि अगर दिल्ली को सजाना है, संवारना है तो फिर तो भाजपा को वोट दें और अगर ऐसा होगा तो शाहीन बाग पर साफ-साफ असर पड़ेगा. अमित शाह ने कांग्रेस और आम आदमी पर दिल्ली में दंगा करने, हिंसा फैलाने और लोगों को उकसाने का आरोप लगाया है. अमित शाह ने कहा कि दिल्ली की सरकार दिल्ली में दंगे और हिंसा करने वालों के साथ खड़ी है. लोगों को आगाह करते हुए उन्होंने कहा कि अगर आप सरकार फिर से दिल्ली में आई तो दिल्ली शांत नहीं रह पाएगी. उन्होंने लोगों से अपील की दिल्ली में शांति और शाहीन बाग के खात्मे के लिए भाजपा को वोट दें. Also Read - कृषि विधेयकों पर संग्राम: कांग्रेस ने कहा किसानों के लिए ‘डेथ वारंट’, भाजपा ने लगाया गुमराह करने का आरोप

  Also Read - MP विधानसभा उपचुनाव: सिंधिया के गढ़ गरजेंगे सचिन पायलट, कांग्रेस के लिए करेंगे चुनाव प्रचार

मोदी सरकार का बखान करते हुए शाह ने कहा कि जो काम 70 साल से लटके पड़े थे, उसे मोदी सरकार ने पूरा करने का काम शुरू कर दिया है. धारा 370 हटा कर कश्मीर को भारत का अभिन्न अंग बना दिया है. आज 26 जनवरी के दिन पूरे राष्ट्र के साथ-साथ जम्मू कश्मीर में भी राष्ट्रध्वज पूरे शान के साथ फहराया गया. केजरीवाल सरकार पर तंज कसते हुए अमित शाह ने कहा कि केजरीवाल सरकार झूठ बोलने के सर्वे में सबसे अव्वल आई है. अमित शाह ने कहा कि केजरीवाल सरकार ने पिछले पांच सालों में सिर्फ बड़े-बड़े वादे किए, किया कुछ भी नहीं. केजरीवाल ने वादा किया था कि सरकारी बंगला नहीं लेंगे, सरकारी गाड़ी का इस्तेमाल नहीं करेंगे, 1000 नए स्कूल बनाएंगे, 50 नए कॉलेज बनाएंगे, 15 लाख सीसीटीवी कैमरा लगाएंगे, फ्री वाई-फाई की सुविधा देंगे, अस्थायी कर्मचारियों को नियमित करेंगे, शुद्ध पानी और हवा देंगे. लेकिन अब यह बात साबित हो गई कि केजरीवाल ने अपने किसी भी वायदे को पूरा नहीं किया. दिल्ली का पानी पूरे देश में सबसे जहरीला और दूषित साबित हुआ है.

 

अमित शाह ने जनता से किया ये वादा
अमित शाह ने वादा किया कि हमारी सरकार दिल्ली में बनते ही जहां झुग्गी है वहां मकान बना कर दिया जाएगा. उन्होंने याद दिलाया कि मोदी सरकार की बदौलत ही आज 1731 अनिधिकृत कोलनियों को अधिकृत किया गया है. जो काम केजरीवाल सरकार का था उसे मोदी सरकार ने पूरा किया. दिल्ली में आयुष्मान योजना लागू नहीं किए जाने का मुद्दा उठाते हुए अमित शाह ने कहा कि आज पूरे देश में लगभग 1 करोड़ गरीब लोग इस योजना का लाभ उठा रहे हैं, जिसमें 5 लाख तक का फ्री इलाज किया जा रहा है. लेकिन केजरीवाल ने वोट बैंक पॉलिटिक्स के तहत इस योजना को दिल्ली में लागू होने नहीं दिया. कांग्रेस पार्टी पर देश भर में दंगा कराने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस दंगा कराने वाले के साथ खड़ी है. केजरीवाल पर निशाना साधते हुए अमित शाह ने कहा कि आज वो शाहीन बाग के साथ खड़े हैं.

चार महीने के अंदर बनेगा भव्य मंदिर
मोदी सरकार ने राम मंदिर का अपना वादा पूरा किया और चार महीने के अंदर जहां रामलला का जन्म हुआ था वहां भव्य मंदिर बनेगा. जेएनयू का जिक्र करते हुए शाह ने कहा कि जेएनयू में भारत तेरे टुकड़े होंगे के नारे लगते थे, हमने उनको जेल में डालने का काम किया. लेकिन जनवरी 2019 से कोर्ट बार-बार इन लोगों के खिलाफ मुकदमा चलाने की मांग कर रही है लेकिन दिल्ली सरकार मुकदमा चलाने की अनुमति नहीं दे रही है. यूपीए सरकार का जिक्र करते हुए अमित शाह ने कहा कि 10 साल सोनिया और मनमोहन सिंह की सरकार चली, पाकिस्तान के मन में जो आता था वह कर लेता था. कोई भी पाकिस्तान की तरफ से घुसपैठ कर लेता था, लेकिन पाकिस्तान भूल गया कि अब 56 इंच की सीने वाली सरकार है. हमने उरी और पुलवाम हमले का माकूल जवाब दिया. अमित शाह ने कांग्रेस पार्टी पर नागरिकता कानून पर देश को गुमराह करने की राजनीति करने का आरोप लगाया. अमित शाह ने कहा कि यह सबको पता है कि नागरिकता कानून पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश में जो हिंदू, सिख, जैन, पारसी प्रताड़ित हो रहे थे उनको नागरिकता देने के लिए बनाया गया कानून है. लेकिन राहुल बाबा और केजरीवाल सरकार इस कानून को लेकर भ्रम की राजनीति कर रही है.