नई दिल्ली: बीजेपी प्रेसिडेंड अमित शाह ने रविवार को दावा किया कि 2019 का लोकसभा चुनाव बीजेपी जीतेगी और 2019 के बाद 50 साल तक पार्टी को हराने वाला कोई नहीं होगा. शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेन्द्र मोदी 300 लोकसभा क्षेत्रों में गए और चुनाव को छोड़ दें तो वे इस दौरान 100 लोकसभा क्षेत्रों में सरकारी कार्यक्रमों में गए. अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले वे शेष संसदीय क्षेत्रों में भी जाएंगे.

पीएम को भी नहीं दिख रही चुनौती
वहीं, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को ‘अजेय भारत, अटल भाजपा’ का नारा दिया और कहा कि 2019 के चुनाव में बीजेपी को कोई चुनौती नजर नहीं आती क्योंकि पार्टी सत्ता को कुर्सी के रूप में नहीं देखती, बल्कि सत्ता को जनता के बीच में काम करने का उपकरण समझती है. प्रधानमंत्री ने 2019 के लोकसभा चुनाव को मद्देनजर रखते हुए कहा, ”हमें चुनौती कहीं नजर नहीं आती.”

PM मोदी ने दिया ‘अजेय भारत, अटल भाजपा’ का नारा, बोले- 2019 के चुनाव में कोई चुनौती नजर नहीं आती

2014 के चुनाव नेताओं ने जरा भी आराम नहीं किया था
बीजेपी के सीनियर नेता एवं केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारणी की बैठक के दूसरे एवं अंतिम दिन अमित शाह के संबोधन की जानकारी देते हुए कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव के बाद प्रधानमंत्री समेत पार्टी नेताओं ने जरा भी विश्राम नहीं किया है.

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में अमित शाह का कांग्रेस पर निशाना, बीजेपी ‘मेकिंग इंडिया’ में जुटी तो कांग्रेस ‘ब्रेकिंग इंडिया’ में

50 साल तक हमें कोई हटाने वाला नहीं होगा
भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ” जहां हमारे प्रधानमंत्री इतनी मेहनत कर रहे हैं तब 2019 का चुनाव तो हम जीतेंगे ही. 2019 के बाद 50 साल तक हमें कोई हटाने वाला नहीं होगा. ” रविशंकर प्रसाद ने बताया कि अमित शाह ने अपने इस संदर्भ में कांग्रेस से तुलना करते हुए कहा कि 1947 में कांग्रेस के सत्ता में आने के बाद कई दशकों तक उसे कोई चुनौती देने वाला नहीं था.

2019 के चुनाव में अमित शाह के हाथों में ही होगी बीजेपी की कमान, पार्टी संगठन के चुनाव देर से होंगे 

22 करोड़ परिवारों से संपर्क का लक्ष्य
शाह ने कहा कि देश की राजनीति बदल रही है और देश काम के प्रदर्शन और उम्मीदों के साथ आगे बढ़ रहा है. बीजेपी अध्यक्ष ने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि पार्टी को 22 करोड़ परिवारों से संपर्क करना है और एक परिवार में अगर 4..5 लोग हों, तब एक प्रकार से पूरा देश शामिल हो जाएगा. उन्होंने कहा कि पार्टी के पास 9 करोड़ कार्यकर्ताओं का कॉर्पस है, जिसमें फोन नंबर, मोबाइल नंबर, पता है और इसके माध्यम से लोगों से प्रभावी ढंग से जुड़ा जाएगा.