नई दिल्ली: विपक्षी सांसदों के लगातार प्रदर्शन के बाद संसद के दोनों सदनों को सोमवार को दिन भर के लिए स्थगित कर दिया गया. विपक्षी सांसदों ने हंगामे के साथ दिल्ली दंगों को लेकर गृह मंत्री अमित शाह के इस्तीफे की मांग की. प्रदर्शन करते हुए सांसद दोनों सदनों के वेल में पहुंच गए. वे हाथों में तख्तियां लिए हुए थे और अमित शाह के इस्तीफे की मांग कर रहे थे. Also Read - Amit Shah On Board Exams: क्या इस साल होंगे 10वीं, 12वीं के बोर्ड एग्जाम्स, गृह मंत्री अमित शाह ने दिए ये आदेश

सुबह में लोकसभा की कार्यवाही शुरू होने के कुछ देर बाद ही स्थगित कर दी गई थी. लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सांसदों से व्यवस्था बनाए रखने का आग्रह किया. प्रदर्शनकारी सांसदों ने नारेबाजी जारी रखी. वे गृह मंत्री के इस्तीफे की मांग कर रहे थे. भाजपा की अगुवाई वाली ट्रेजरी बेंच ने कांग्रेस पर जोरदार हमला किया. Also Read - Cyclone Amphan Update: शाम तक 'विनाशकारी' हो सकता है 'अम्फान', भारी बारिश की चेतावनी, जल्द बैठक करेंगे PM

केंद्रीय संसदीय मामलों के मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा, “जिनलोगों ने 1984 में 3,000 लोगों के मारे जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की, आज वे यहां हंगामा कर रहे हैं. मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूं.” जब लोकसभा दोपहर के भोजन के बाद फिर एकत्र हुई, तो भी नारेबाजी जारी रही है, जिसके बाद सदन को स्थगित कर दिया गया. इससे पहले राज्यसभा को भी दिल्ली दंगे को लेकर विपक्ष के प्रदर्शन के बाद मंगलवार तक के लिए स्थगित कर दिया गया. Also Read - पीएम मोदी को पसंद आई प्रोत्साहन पैकेज की चौथी किस्त, अमित शाह ने भी की वित्त मंत्री की तारीफ