नई दिल्ली: विपक्षी सांसदों के लगातार प्रदर्शन के बाद संसद के दोनों सदनों को सोमवार को दिन भर के लिए स्थगित कर दिया गया. विपक्षी सांसदों ने हंगामे के साथ दिल्ली दंगों को लेकर गृह मंत्री अमित शाह के इस्तीफे की मांग की. प्रदर्शन करते हुए सांसद दोनों सदनों के वेल में पहुंच गए. वे हाथों में तख्तियां लिए हुए थे और अमित शाह के इस्तीफे की मांग कर रहे थे. Also Read - Who Will Be Assam Next CM? असम के सीएम के लिए दिल्ली में BJP का मंथन जारी, सोनोवाल या बिस्व सरमा...कौन

सुबह में लोकसभा की कार्यवाही शुरू होने के कुछ देर बाद ही स्थगित कर दी गई थी. लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सांसदों से व्यवस्था बनाए रखने का आग्रह किया. प्रदर्शनकारी सांसदों ने नारेबाजी जारी रखी. वे गृह मंत्री के इस्तीफे की मांग कर रहे थे. भाजपा की अगुवाई वाली ट्रेजरी बेंच ने कांग्रेस पर जोरदार हमला किया. Also Read - West Bengal Result: बड़ी जीत के बाद सरकार गठन का दावा करने के लिए आज शाम राज्यपाल धनखड़ से मिलेंगी ममता बनर्जी

केंद्रीय संसदीय मामलों के मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा, “जिनलोगों ने 1984 में 3,000 लोगों के मारे जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की, आज वे यहां हंगामा कर रहे हैं. मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूं.” जब लोकसभा दोपहर के भोजन के बाद फिर एकत्र हुई, तो भी नारेबाजी जारी रही है, जिसके बाद सदन को स्थगित कर दिया गया. इससे पहले राज्यसभा को भी दिल्ली दंगे को लेकर विपक्ष के प्रदर्शन के बाद मंगलवार तक के लिए स्थगित कर दिया गया. Also Read - West Bengal Result: पार्टी बदलकर BJP में शामिल होने वाले ज्यादातर उम्मीदवारों को मिली हार, देखें LIST