अमेठी. गुजरात में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के बीच जारी राजनीतिक लड़ाई यूपी के अमेठी तक पहुंच गई है. राहुल गांधी गुजरात में घूम-घूम कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार और बीजेपी पर तीखा हमला कर रहे हैं. गुजरात चुनाव से पहले राहुल की इस रणनीति का जवाब बीजेपी उनके गढ़ अमेठी में देने की तैयारी कर चुकी है. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ व डिप्टी सीएम केशव मौर्य अमेठी में रैली को संबोधित करेंगे. 

rahul gandhi in gujarat again raise vikas pagal ho gaya issue | राहुल गांधी का मोदी पर तंज, कहा- झूठ सुन सुनकर विकास पागल हो गया

rahul gandhi in gujarat again raise vikas pagal ho gaya issue | राहुल गांधी का मोदी पर तंज, कहा- झूठ सुन सुनकर विकास पागल हो गया

अमेठी में इस दौरान कई योजनाओं की भी शुरुआत की जाएगी. गौरतलब है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में स्मृति ईरानी अमेठी से चुनाव लड़ी थी लेकिन हार गई थी. इसके बावजूद भी वह लगातार अमेठी से जुड़ी रही हैं. ईरानी सोमवार से ही यहीं पर डेरा जमाए हुए हैं. अपने अमेठी दौरे पर राहुल ने प्रधानमंत्री पर तीखी टिप्पणी करते हुए कहा था, “प्रधानमंत्री को यह शोभा नहीं देता है कि जब भी कोई बिगड़ती अर्थव्यवस्था की बात करता है, बढ़ती बेरोजगारी की बात करता है, किसानों की आत्महत्या की बात करता है, तो कोई ना कोई बहाना बना देते हैं. ये समय पैनिक करने का नहीं है, फॉक्स करने का है. प्रधानमंत्री को बहाने देना बंद कर देना चाहिए”

अमेठी से राहुल होंगे निशाने पर
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुजरात दौरे पर हैं लेकिन संसदीय क्षेत्र अमेठी में उनके दौरे के तीन दिन बाद अब बीजेपी के दिग्गज नेता कांग्रेस का गढ़ समझे जाने वाले अमेठी पहुंचेंगे. केंद्रीय वस्त्र एवं सूचना प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी दो दिवसीय दौरे पर 9 अक्टूबर को यहां पहुंच गईं. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के 10 अक्टूबर को यहां आ रहे हैं.

अमेठी जिला प्रशासन की ओर से जारी आधिकारिक बयान के मुताबिक दस अक्टूबर को कई योजनाओं और परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास होने की संभावना है. इस मौके पर होने वाले कार्यक्रम को शाह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और स्मृति ईरानी संबोधित करेंगी. विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाणपत्र भी वितरित होंगे.

स्मृति ईरानी के दस अक्तूबर को गौरीगंज में एफएम स्टेशन के शुभारंभ के मौके पर उपस्थित रहने की उम्मीद है. वह पिपरी गांव के निकट गोमती नदी के बांये किनारे को बचाने के लिए परियोजना के शुभारंभ में शामिल होंगी. वह अमेठी जिला अस्पताल में टीबी यूनिट का उद्घाटन करेंगी और ओदारी तिलोई में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के उद्घाटन तथा राज्य एवं केन्द्र सरकार की ओर से शुरू होने वाले जन कल्याण के कार्यक्रमों में शिरकत करेंगी. नौ अक्टूबर को स्मृति ईरानी जगदीशपुर स्थित सेल जाएंगी और वहां एक कार्यक्रम में हिस्सा लेंगी.

कांग्रेस का गढ़ लेकिन बीजेपी की दमदार उपस्थिति
अमेठी कांग्रेस का गढ़ समझा जाता था. 2014 के लोकसभा चुनाव में यहां राहुल और स्मृति के बीच कड़ा चुनावी मुकाबला देखने को मिला था. चुनाव राहुल जीते थे. राहुल को चार लाख आठ हजार 651 मत मिले जबकि स्मृति ईरानी को तीन लाख 748 वोट हासिल हुए थे. चुनाव हारने के बावजूद स्मृति की सक्रियता अमेठी में बनी रही.

बात 2017 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की करें तो बीजेपी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के निर्वाचन क्षेत्र रायबरेली तथा राहुल के निर्वाचन क्षेत्र अमेठी के तहत आने वाली दस विधानसभा सीटों में से छह पर जीत दर्ज की थी. बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं का कहना है कि अमित शाह और स्मृति ईरानी के दौरे से संदेश जाएगा कि मौजूदा सरकार राज्य के चहुंमुखी विकास में भरोसा करती है और उन सीटों के साथ सौतेला बर्ताव नहीं होगा, जहां बीजेपी को विजय नहीं मिली.