नई दिल्ली. बजट सत्र के पहले चरण के आखिरी दिन शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के संसदीय बोर्ड की बैठक हुई. बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह और वित्त मंत्री अरुण जेटली समेत कई नेता मौजूद रहे. इस अहम बैठक के दौरान राफेल डील पर कांग्रेस के आरोपों से निपटने की रणनीति तैयार की गई. इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि मध्यमवर्ग और किसानों के मुद्दे पर सांसदों को टिफिन के दौरान चर्चा करनी चाहिए. Also Read - संजय राउत ने पूर्व CM फडणवीस से मुलाकात की बताई वजह, कहा- 'हमारे बीच वैचारिक मतभेद हो सकते हैं लेकिन...'

इस दौरान बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की सियासत करने की शैली अलोकतांत्रिक है. यहीं वजह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण के दौरान हंगामा हुआ. Also Read - Mann Ki Baat: मन की बात कार्यक्रम में बोले PM मोदी- 'महामारी ने लोगों को करीब लाने का काम भी किया'

पार्टी की यह मीटिंग ऐसे समय में हुई है जब संसद में बजट सत्र के दौरान सरकार को विपक्ष का भारी विरोध झेलना पड़ रहा हैअनंत कुमार ने यह भी बताया कि शाह ने बैठक में कहा कि राफेल डील के मुख्य बिन्दुओं के बारे में बताया जा चुका है और आगे भी बताएंगे, लेकिन हर एक कंपोनंट को लेकर चर्चा करना देशहित में कितना उचित होगा?

बता दें कि पीएम मोदी आज ही तीन देशों की यात्रा पर रवाना हुए. मोदी फ़िलिस्तीन, संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) और ओमान के दौरे पर भी निकले हैं.