सतना: बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने सोमवार को आरोप लगाया कि कांग्रेस ने ग्वालियर राजघराने की वंशज एवं भाजपा नेता राजमाता विजयाराजे सिंधिया पर ढेर सारे सितम ढाये और जेल भी भेजा. इसके विपरीत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपानीत सरकार ने महिलाओं का सम्मान किया है और उन्हें आगे बढ़ाने में मदद भी की है. Also Read - कौन हैं पंखुड़ी पाठक, जिन्हें प्रियंका गांधी ने कांग्रेस में दी बड़ी जिम्मेदारी, कभी अखिलेश-डिंपल से रहीं नजदीकियां

Also Read - LAC से पीछे हटी चीनी सेना, कांग्रेस बोली- क्या प्रधानमंत्री अब सर्वदलीय बैठक वाला बयान वापस लेंगे और माफी मांगेगे

कांग्रेस सरकारों के बहरे कानों ने 70 साल तक किसानों की आवाज नहीं सुनी: अमित शाह Also Read - राहुल गांधी की रक्षा मामलों में केवल ''कमीशन'' को लेकर ही रुचि, संसदीय समिति में नहीं: बीजेपी

शाह ने सतना के बीटीआई ग्राउंड में भाजपा कमल शक्ति संवाद सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, ”12 तारीख को श्रीमंत राजमाता साहब का जन्म शताब्दी वर्ष शुरू हुआ है. राजमाता साहब हम सब भाजपा कार्यकर्ताओं के लिए वात्सल्य का प्रतीक रहीं. सालों तक जनसंघ और भाजपा के लिए छत्तीसगढ़, राजस्थान, गुजरात एवं पूरे मध्यप्रदेश में चप्पे-चप्पे पर घूम कर मातृ वात्सल्य से उन्होंने हर कार्यकर्ता को प्रोत्साहित करने को काम किया.”

बीजेपी अध्यक्ष शाह ने कहा, ”जब आपातकाल आया,कांग्रेस ने ढेरों सितम राजमाता पर ढाये. जेल भी भेजा लेकिन उन्होंने कभी झुकना मंजूर नहीं किया, संघर्ष करती रहीं.” शाह ने कहा कि उसी का परिणाम है कि उनके कार्य क्षेत्र में कमल पूरे देश में दिखता है. उनका (राजमाता) जीवन संदेश हमारे लिए प्रेरणादायी बना रहेगा.