नई दिल्लीः केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को देश का पहला चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) बनने पर जनरल बिपिन रावत को शुभकामनाएं दीं. उन्होंने कहा कि जनरल रावत के नेतृत्व में सेना के तीनों अंग राष्ट्र की सुरक्षा सुनिश्चित करने और नए भारत की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए सामूहिक प्रयास करेंगे. शाह ने ट्वीट की एक श्रृंखला में यह बातें कहीं. उन्होंने इस अवसर को भारत के लिए ऐतिहासिक करार देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक और लंबे अरसे से की जा रही मांग को पूरा कर दिया और भारत को पहला सीडीएस मिल गया.

मोदी ने 15 अगस्त 2019 को लाल किले के प्राचीर से कहा था कि देश को जल्द ही सीडीएस मिलेगा. शाह ने कहा, “मुझे पूरा विश्वास है कि यह फैसला दुनिया के शीर्ष रक्षा बलों में शामिल होने के भारत के संकल्प को और मजबूत करेगा.” उन्होंने कहा, “मैं जनरल बिपिन रावत को भारत के पहले सीडीएस का पद्भार संभालने पर बधाई देता हूं. मुझे पूरा विश्वास है कि उनके नेतृत्व में तीनों सेनाएं एक टीम की तरह सामूहिक रूप से कार्य करेंगी और हमारे देश को हर मुश्किलों में सुरक्षित रखने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेंगी.”


देश के 6 करोड़ किसानों को आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देंगे नए साल का तोहफा

गृह मंत्री ने कहा, “सीडीएस सेना के तीनों अंगों के कर्मियों का कल्याण सुनिश्चित करने के मोदी सरकार के प्रयासों को आगे बढ़ाएंगे, सेना का आधुनिकीकरण करेंगे और एक नए इंडिया की आकांक्षाओं को पूरा करेंगे.” प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी बुधवार को ट्वीट कर देश का पहला सीडीएस बनने पर जनरल बिपिन रावत को शुभकामनाएं दीं और उनके सफल कार्यकाल की कामना की.

बुधवार को सेना प्रमुख के पद का कार्यकाल पूरा करने के बाद जनरल रावत ने सीडीएस का कार्यभार संभाल लिया और उम्मीद जताई कि उन्हें दिया गया मैंडेट सेना की तीनों सेवाओं, भारतीय सेना, भारतीय नौसेना व भारतीय वायुसेना में नजदीकी लाएगा.