नई दिल्ली. तेलंगाना में चुनावी माहौल बनते ही बीजेपी ने अपनी रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है. पार्टी अध्यक्ष अमित साह ने कहा है कि राज्य में उनकी पार्टी अकेले चुनाव लड़ेगी. वह किसी के साथ गठबंधन नहीं करने जा रहे हैं और सभी सीटों पर उनकी पार्टी प्रत्याशी उतारेगी. उन्होंने दावा किया है कि बीजेपी राज्य में सबसे बड़ी ताकत बनकर उभरेगी. Also Read - एस पी बालासुब्रमण्यम के निधन पर PM समेत अन्य नेताओं ने जताया शोक कहा- बेमिसाल संगीत से हमेशा यादों में रहेंगे

तेलंगाना पहुंचे अमित शाह ने मुख्यमंत्री केसी राव पर सीधे निशाना साधते हुए कहा कि केसी राव ‘एक देश एक चुनाव’ का सबसे पहले समर्थन करने वाले एनडीए के साथ थे. लेकिन अब उनका स्टैंड बदल गया है. इतने छोटे राज्य में भी वह दो चुनाव चाहते हैं. इससे राज्य की जनता का ही पैसा खर्ज होगा और उनपर भार बढ़ेगा. Also Read - पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव की हालत स्थिर, सेहत में लगातार हो रहा सुधार

परिवारवाद का लगाया आरोप
अमित शाह ने केसी राव पर परिवारवाद का आरोप जरूर लगाया. उन्होंने कहा कि राव सिर्फ अपने परिवार को आगे बढ़ाने के लिए 9 महीने पहले चुनाव में उतर रहे हैं और राज्य की जनता पर भार डाल रहे हैं. वहीं, राव पर उन्होंने तुष्टिकरण का आरोप लगाते हुए कहा कि अल्पसंख्यकों के लिए 12 फीसदी आरक्षण का क्या तात्पर्य है. उन्होंने कहा कि केसी आर एआईएमआईएम और वामपंथी दलों के इशारे पर काम कर रहे हैं. Also Read - कोरोना से उबरे गृह मंत्री अमित शाह, लोकसभा की कार्यवाही में भाग ले सकते हैं

पेट्रोल-डीजल पर ये कहा
पेट्रोल-डीजल के सवाल पर अमित शाह ने केंद्र की बीजेपी सरकार का बचाव करते हुए कहा, अंतरराष्ट्रीय तनाव की वजह से ये कीमतें बढ़ी हैं. कीमतों का सीधा कनेक्शन चीन और अमेरिका के ट्रेड वार तनाव से है. हालांकि, सरकार प्रयास कर रही है कि ये दाम कम हो जाएं.