नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन के बाद गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने उनकी अपीलों को देश की जनता से जीवन का मंत्र बनाने की अपील की है. गृहमंत्री अमित शाह ने कहा है कि तभी हम कोरोना जैसी आपदा से जीत सकते हैं. गृहमंत्री अमित शाह ने कहा, “मैं सभी से करबद्ध निवेदन करता हूं कि इस आपदा से लड़ने में प्रधानमंत्री की जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं की अपील को अपने जीवन का मंत्र बनायें और स्वयं को व अपने परिजनों को सुरक्षित रखें. एक संयुक्त व संकल्पित भारत के रूप में ही हम इस आपदा से जीत सकते हैं.” Also Read - क्या दिल्ली में बीत चुका है कोरोना वायरस का तीसरा पीक? अरविंद केजरीवाल ने दिया ये जवाब

गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि, “भारतवासियों की सुरक्षा और स्वस्थ जीवन ही मोदी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता रही है. कोरोना के विरुद्ध इस जंग में भी देशवासियों के जीवन को बचाना ही मोदी सरकार ने अपना परम कर्तव्य माना. आज प्रधानमंत्री ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए इस संकल्प को पुन दोहराया है.” Also Read - Kisan Andolan LIVE Updates: गृह मंत्री अमित शाह का किसानों को अश्वासन- 3 दिसंबर से पहले बातचीत को तैयार भारत सरकार

बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन के दौरान त्यौहारों के समय और अधिक सावधानी बरतने की अपील की है. प्रधानमंत्री मोदी ने सतर्क करते हुए कहा, “जब तक सफलता पूरी न मिल जाए, लापरवाही नहीं करनी चाहिए. जब तक इस महामारी की वैक्सीन नहीं आ जाती, हमें कोरोना से अपनी लड़ाई को कमजोर नहीं पड़ने देना है.” प्रधानमंत्री मोदी ने दुनिया के दूसरे देशों का उदाहरण देते हुए भी भारतवासियों को सावधानी बरतने की अपील की. उन्होंने कहा, “आप ध्यान रखिए, आज अमेरिका हो, या फिर यूरोप के दूसरे देश, इन देशों में कोरोना के मामले कम हो रहे थे, लेकिन अचानक से फिर बढ़ने लगे.” Also Read - इस राज्य की सरकार का बड़ा फैसला, अब सिर्फ 5 दिन काम करेंगे सरकारी कर्मचारी