पणजी: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को यह कहते हुए कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी पर प्रहार किया कि वह बीमार चल रहे गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के साथ अपनी मुलाकात के बारे में झूठ बोलकर और उसे राजनीतिक रूप देकर बहुत नीचे उतर गये हैं. शाह यहां पर्रिकर की उपस्थिति में भाजपा के मतदान केंद्र स्तर के कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे.

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे तब अच्छा लगा जब राहुल गांधी पर्रिकर को स्वस्थ होने की शुभकामना देने के लिए उनसे मिलने गये.’ उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन शाम में उन्होंने दावा किया कि इस भेंट के दौरान पर्रिकर ने राफेल मुद्दे पर बोला. यह राजनीति का बहुत ही निम्न स्तर है.’’ उन्होंने राहुल गांधी पर झूठ बोलकर पर्रिकर की बीमारी का मजाक उड़ाने का आरोप लगाया. उन्होंने यह कहते हुए विपक्षी दलों के प्रस्तावित महागठबंधन पर कटाक्ष किया कि यदि वह लोकसभा चुनाव जीत जाता है तो गठबंधन का हर नेता सप्ताह में एक एक दिन प्रधानमंत्री बनेगा और रविवार को देश छुट्टी पर होगा.

उन्होंने कहा, ‘‘महागठबंधन में मायावती सोमवार को, अखिलेश यादव मंगलवार को, एच डी देवेगौड़ा बुधवार को, चंद्रबाबू नायडू बृहस्पतिवार को, एम के स्टालिन शुक्रवार को और शरद पवार शनिवार को प्रधानमंत्री होंगे. रविवार को देश छुट्टी पर होगा.’’ उससे पहले पुणे में उन्होंने शरद पवार को संप्रग शासन और मोदी सरकार के दौरान खरीदे गये कृषि उपज के आंकड़े साझा करने और तुलना करने की चुनौती दी. पश्चिम बंगाल में भाजपा नेताओं को रैलियां करने की इजाजत नहीं देने पर वहां की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर प्रहार करते हुए शाह ने कहा कि स्टिंग ऑपरेशन में एक खुफिया अधिकारी ने कहा कि सभा को अनुमति नहीं देने की वजह कानून व्यवस्था नहीं थी बल्कि ममता बनर्जी भाजपा से डरी हुई हैं.