कांथी. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को पश्चिम बंगाल की तृणमूल कांग्रेस सरकार पर करारा हमला करते हुए आरोप लगाए कि चिटफंड कंपनियों के मालिकों ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पेंटिंग करोड़ों रुपए में खरीदी. इस आरोप पर पलटवार करते हुए सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने उनके खिलाफ मानहानि नोटिस भेजा. पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस को उखाड़ फेंकने का संकल्प जताते हुए शाह ने कहा कि अगर भारतीय जनता पार्टी ने राज्य में अगली सरकार बनाई तो वह सुनिश्चित करेगी कि चिट फंड निवेश का शिकार बने हर निवेशक को उसका धन वापस मिले. शाह ने कहा, ‘‘क्या आप सभी ममता बनर्जी के गुणों से परिचित हैं? वह काफी अच्छी पेंटर हैं. अगर कोई महान पेंटर भी है तो उसकी पेंटिंग की कितनी कीमत होती है? दस हजार, बीस हजार, एक लाख या दस लाख. लेकिन चिट फंड मालिकों ने उनकी पेंटिंग करोड़ों रुपए में खरीदी.’’

अमित शाह ने पश्चिम बंगाल के पूर्वी मिदनापुर जिले के कांथी में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘तो क्या ऐसे चिट फंड मालिकों को कभी गिरफ्तार किया जाएगा जिन्होंने मुख्यमंत्री की पेंटिंग खरीदी है?’’ शाह ने दावा किया कि चिट फंड घोटाले के कारण राज्य के 25 लाख से अधिक लोगों की जिंदगी भर की कमाई लूट गई. उन्होंने कहा कि अगर भाजपा पश्चिम बंगाल में सत्ता में आई तो लूटे गए सभी धन को बरामद करेगी. इस पर टीएमसी ने तुरंत प्रतिक्रिया जताते हुए आरोपों को ‘‘निराधार’’ बताया और आरोप लगाए कि ‘‘भाजपा हमारी पार्टी की छवि खराब करने का प्रयास कर रही है.’’ तृणमूल की वरिष्ठ नेता और स्वास्थ्य राज्यमंत्री चंद्रिमा भट्टाचार्य ने भाजपा प्रमुख के खिलाफ मानहानि नोटिस भेजा और उन पर ‘‘झूठ बोलकर’’ बनर्जी की छवि खराब करने के प्रयास का आरोप लगाया.

पश्चिम बंगाल में अमित शाह की रैली के वाहनों में तोड़फोड़-आगजनी, BJP-TMC कार्यकर्ताओं के बीच झड़प

पश्चिम बंगाल में अमित शाह की रैली के वाहनों में तोड़फोड़-आगजनी, BJP-TMC कार्यकर्ताओं के बीच झड़प

भट्टाचार्य ने कहा, ‘‘मैं उनसे पूछना चाहती हूं कि वह किस आधार पर हमारी पार्टी की नेता के खिलाफ ऐसी टिप्पणियां कर रहे हैं. उन्हें या तो अपने बयान के समर्थन में साक्ष्य देने पड़ेंगे या उन्हें अपनी टिप्पणियां के लिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी होगी. अगर वह ऐसा नहीं करेंगे तो हम उनके खिलाफ कानूनी कदम उठाएंगे.’’ उधर, शाह ने कहा, ‘‘हमें एक मौका दीजिए. हम सुनिश्चित करेंगे कि चिट फंड के मार्फत लूटे गए धन को बरामद किया जाए. वे (टीएमसी) इसे नहीं कर सकते. हम इसे करेंगे.’’ भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव से राज्य में लोकतंत्र बहाल होगा. उन्होंने कहा, ‘‘लोकसभा चुनावों के बाद नरेन्द्र मोदी फिर प्रधानमंत्री चुने जाएंगे. लेकिन पश्चिम बंगाल में चुनाव लोकतंत्र की बहाली को लेकर है.’’ शाह ने कहा, ‘‘मुझे विश्वास है कि आगामी लोकसभा चुनावों में भाजपा राज्य में टीएमसी सरकार को खत्म कर देगी. मतगणना के दिन आप देखेंगे कि टीएमसी सरकार गिर गई. लोकसभा चुनावों में मतगणना दोपहर एक बजे से दो बजे के बीच खत्म हो जाएगी और बंगाल में सरकार गिर जाएगी.’’

उन्होंने कहा, ‘‘अगर आप बंगाल को गोतस्करों और घुसपैठियों से बचाना चाहते हैं तो आपको भाजपा को चुनना होगा. केवल नरेन्द्र मोदी और भाजपा सरकार ही यह काम कर सकती है.’’ रैली के बाद तृणमूल और भाजपा के कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़पें हुईं. दोनों तरफ से कई लोग घायल बताए जा रहे हैं. दिल्ली में, भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस ने शाह की रैली के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं के वाहनों को निशाना बनाया.