नोएडा के एमिटी यूनिवर्सिटी के 21 वर्षीय छात्र ने हॉस्टल के अपने कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। तेलंगाना निवासी जी साई कृष्णा ‘‘पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन फैसिलिटीज मैनेजमेंट’’ में प्रथम वर्ष का छात्र था और दिवाली की छुट्टियों में अकेला हॉस्टल में रह रहा था।

सेक्टर 39 के प्रभारी अमरनाथ यादव ने कहा कि कृष्णा ने शनिवार शाम को आत्महत्या की। छात्र ने अपने अभिभावकों के लिए तेलुगू में एक पत्र भी लिखा है। पुलिस के मुताबिक इस छात्र पर इसके कई दोस्तों का पैसा उधार था।

उधार चुका ना पाने के वजह से वो काफी परेशान चल रहा था। वहीं कुछ दिन पहले ही कृष्णा के पिता ने उसकी पढ़ाई तथा किसी से पैसे मांगने और वापस नहीं लौटाने को लेकर उसे डांट लगायी थी। ये भी पढ़ें: दिल्ली में जारी है प्रदूषण का कहर, बनी आपातकाल की स्थिति

पोस्टमार्टम के बाद शव को उसके परिवार वालों को सौंप दिया गया। विश्वविद्यालय प्रवक्ता सविता मेहता ने कहा कि हम जांच में पुलिस को सहयोग कर रहे हैं। हमने छात्रों की मदद के लिए एक कॉउंसलिंग सेंटर भी स्थापित किया है। कृष्णा के पिता जी दीनदयाल रेड्डी ने दावा किया कि कृष्णा ने उन्हें ऐसी कोई समस्या नहीं बतायी थी जिसके कारण उसे आत्महत्या करनी पड़ी।