नई दिल्ली: दशहरे के मौके पर ट्रेन की पटरियों से रावण दहन देख रहे सैकड़ों लोग ट्रेन की चपेट में आ गए. अब तक इस 61 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हुई है, वहीं कई लोग घायल हैं. हादसे के दौरान ट्रेन जालंधर से अमृतसर आ रही थी. हादसे को लेकर कई तरह के आरोप-प्रत्यारोप लग रहे हैं. जानते हैं घटना से जुड़ी 10 बड़ी बातें.Also Read - सपनों का घर बनाना होगा आसान, सस्ता होगा बिल्डिंग मैटेरियल, आम आदमी पार्टी की सरकार ने उठाया बड़ा कदम

1.रेलवे अधिकारियों ने 61 लोगों की मौत वहीं 72 लोगों के घायल होने की पुष्टि की है. अधिकारियों का कहना है कि पुतला दहन देखने के लिए लोगों का वहां पटरियों पर एकत्र होना स्पष्ट रूप से अतिक्रमण का मामला था और इस कार्यक्रम के लिये रेलवे द्वारा कोई मंजूरी नहीं दी गई थी. Also Read - Weather News: दिल्ली में छाए बादल, बारिश का अलर्ट, पंजाब, हरियाणा, UP, बिहार में बारिश नया दौर शुरू हो सकता है

2.रेलवे ने अमृतसर में शुक्रवार को ट्रेन से हुए हादसे के पीड़ितों के परिजनों के लिए एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया है. अधिकारियों ने बताया कि 01832223171 और 01832564485 नंबरों पर फोन करके हादसे के बारे में जानकारी ली जा सकती है. मनावला स्टेशन का फोन नंबर 0183-2440024, 0183-2402927 और फिरोजपुर का हेल्पलाइन नंबर 01632-1072 है. Also Read - Indian Railways: चलती ट्रेन में हुआ बच्चे का जन्म, रेलवे ने अगले ही स्टेशन पर की एंबुलेंस की व्यवस्था

3. ट्रेन हादसे के बाद 8 ट्रेनों को कैंसल कर दिया गया है. 5 ट्रेनों के रूट बदले गए हैं वहीं 10 ट्रेनों को शॉर्टटर्म के लिए कैंसल किया गया है.

4.पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने शनिवार को गुरु नानक देव अस्पताल का दौरा किया और घायलों से मुलाकात की. उन्होंने कहा कि हादसा अचानक हुआ जब ट्रेन बिना हॉर्न दिए तेजी से आ गई. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं.

5. नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर सिद्धु के खिलाफ लोगों ने नारेबाजीकी. वह रावण दहन कार्यक्रम के दौरान मुख्य अतिथि के तौर पर वहां मौजूद थीं. हालांकि उन्होंने बाद में कहा कि हादसे के फौरन बाद वह अस्पताल पहुंचीं. उन्होंने कहा कि रेलवे को यह सुनिश्चित करना चाहिए था कि दशहरा आयोजन के दौरान ट्रैक के इस खंड पर ट्रेन की रफ्तार धीमी रहे. नवजोत कौर ने कहा, ‘हर साल वहां दशहरा आयोजन होता है.’ उन्होंने कहा कि वह हादसे से पहले ही वहां से चली गई थीं.

6. पंजाब सरकार ने शनिवारो को राजकीय शोक का ऐलान किया है. आज पंजाब में स्कूल कॉलेज और सरकारी दफ्तर बंद रहेंगे. इससे पहले पंजाब सरकार ने मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपये मुआवजे का ऐलान किया. केन्द्र सरकार ने भी 2 लाख रुपये मुआवजे का ऐलान किया है.

7. मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने घटना की जांच के आदेश दिये हैं. उन्होंने कहा, ‘अभी मुझे नहीं पता है कि रेलवे स्टेशन के बगल में रावण का यह पुतला क्यों बनाया गया था. लेकिन प्रशासन इसे देखेगा. सीएम ने अपना इस्राइल दौरा स्थगित कर दिया है.

8.रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा, रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष अश्विनी लोहानी और उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक विश्वेष चौबे हादसे वाली जगह पहुंचे. रेल मंत्री पीयूष गोयल अमेरिका में हैं और वह वहां अपने सभी कार्यक्रम रद्द कर वापस लौट रहे हैं.

9. मीडिया रिपोर्ट में ट्रेन की स्पीड 100 किलोमीटर प्रतिघंटे बताई जा रही है. ट्रेन को हादसे वाली जगह से गुजरने में महज 10 से 15 सेकेंड लगे इतने में ही सैकड़ों लोग उसकी चपेट में आ गए. पटरी के दोनों ओर 150 मीटर के दायरे में शरीर के कटे अंग बिखरे थे.
10. हादसे की परेशान कर देने वाली वीडियो फुटेज दिखा रही है कि जब यह हादसा हुआ तब कई लोग कार्यक्रम की अपने मोबाइल से वीडियो बना रहे थे.