नई दिल्ली: दशहरे के दिन रावण दहन के दौरान ट्रेन से कुचलने से हुई लोगों की मौतों ने सभी को झकझोर कर रख दिया है. अब तक 60 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हुई है. मृतकों की संख्या बढ़ सकती है. 50 अधिक अस्पताल में भर्ती हैं. हादसे को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी से लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शोक संवेदना व्यक्त की है.

अमृतसर में रावण दहन के दौरान पटरी पर मौजूद लोगों को ट्रेन ने कुचला, अब तक 58 की मौत, हेल्पलाइन नंबर जारी

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा है कि ट्रेन हादसे से वह बेहद दुखी हैं. घटना ह्रदय विदारक है. जिन्होंने अपनों को खोया है, मेरी सांत्वना उन् परिजनों के साथ हैं. मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि जो घायल हैं, वह जल्दी स्वस्थ हो जाएं. मैंने जरूरत के मुताबिक जल्द से जल्द मदद पहुंचाने को कहा है.

VIDEO: पुतले को मोबाइल में कैद कर रहे थे लोग और देखते-देखते ट्रेन से कट गए कई

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि घटना स्तब्ध करने वाली है. मैंने राज्य सरकार और कांग्रेस कार्यकर्ताओं से घटना स्थल पर पहुंच तुरंत ही मदद करने की अपील की है. मेरी सांत्वना मृतक के परिजनों के साथ हैं. प्रार्थना है कि घायल हुए लोग जल्द से जल्द स्वस्थ हो जाएं.

अमृतसर हादसा: सीएम का इजराइल दौरा कैंसिल, मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख, घायलों को फ्री इलाज

वहीँ, गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने घटना को दर्दनाक बताया है. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि घटना दुर्भाग्यपूर्ण है. केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि शोक व्यक्त करने के लिए शब्द नहीं हैं. घटना की जांच होनी चाहिए. घटना प्रशासन की व्यवस्था पर बड़ा सवाल है. रेलमंत्री पियूष गोयल ने कहा कि रेलवे द्वारा तुरंत ही बचाव कार्य शुरू कराया गया है.

दूसरी ओर पंजाब सरकार ने लोगों से घायलों की मदद करने के लिए आगे आने को कहा है. पंजाब सरकार ने अपील की है कि घायलों को खून की जरूरत है. कई मरीजों के शरीर से खून अधिक बह गया है. इसलिए ब्लड डोनेट करने के लिए लोग आगे आएं, ताकि लोगों को बचाया जा सके. जप भी ब्लड डोनेट करना चाहते हैं वह अमृतसर के सिविल हॉस्पिटल व गुरु नानक हॉस्पिटल पहुंचें.