नई दिल्ली: आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में स्थित एक केमिकल प्लाट से जहरीली गैस के रिसाव के बाद यहां 1 बच्चे समेत 3 लोगों की मौत हो गई है. आरएस वेंकटपुरन गांव में एलजी पॉलिमर उद्योग में गैस लीक होने के कारण 200 लोग बीमार भी हो चुके हैं. इस घटना के बाद हरकत में आई प्रशासन आस पास के इलाके को खाली करवाने में जुटी हुई है. Also Read - मुंबई से चलकर वाराणसी पहुंची ट्रेन में 2 यात्री पाए गए मृतक, श्रमिक ट्रेन का है पूरा मामला

लोगों को सांस लेने में दिक्कत व आंखों में जलन होने की शिकायत के बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया था. इसके बाद मौके पर सूचना पाकर पुलिस और फायर ब्रिगेड की टीम पहुंच चुकी है. सभी बीमार लोगों का अस्पताल में इलाज किया जा रहा है. Also Read - रश्मि देसाई के अकाउंट से लाखों रुपए निकालने के खुलासे के बाद, एक्ट्रेस लेंगी अब अरहान से बदला!

इस घटना पर जिला चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि एलजी पॉलिमर इंडस्ट्री में रासायनिक गैस रिसाव के बाद एक बच्चे सहित 3 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं 200 से ज्याा लोगों को आंखों में जलन व सांस लेनें में दिक्कत के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

इस बारे में विशाखापतनम शहर के सीपी आरके मीणा ने बताया कि गैस को बेअसर कर दिया गया है। एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंच गई है। इस गैस का प्रभाव 1-1.5 किलोमीटर के दायरे में ही था. लेकिन केमिकल गैस की गंध 2.5 किलोमीटर के दायरे तक में फैला था. अबतक 120 लोगों को अस्पताल भिजवाया गया है. वहीं इस घटना में एक बच्चे समेत कुल 3 लोगों की मौत हुई है. उन्होंने आगे बताया कि यह स्टाइरीन गैस का रिसाव था. सूचना पाकर मौके पर पहुंचकर हमने गांवों को खाली करवाया. फिलहाल हम घर-घर जाकर इसकी जांच कर रहे हैं.