चंडीगढ: जम्मू कश्मीर के हंदवाड़ा में आतंकवादियों के साथ रविवार को मुठभेड़ में शहीद सेना के एक जवान के परिजनों को पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दस लाख रुपये की सहायता राशि तथा नौकरी देने की घोषणा की है. कैप्टन ने कोरोना वायरस महामारी के दौरन हुए आतंकी हमले को घिनौनी हरकत करार दिया है. Also Read - हरभजन-युवराज के बयान पर आफरीदी का पलटवार; कहा- उन्हें पता है कि उनके देश में लोगों पर अत्याचार हो रहा है

पंजाब के मानसा जिला निवासी, नायक राजेश कुमार आतंकवाद निरोधक अभियान के दौरान शहीद हो गये . इस अभियान में सुरक्षा बल के कुल पांच जवान शहीद हुये हैं. इनमें एक कर्नल एवं मेजर भी शामिल है. कुमार के परिजनों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि यह दुखद क्षण है. कुमार 21 राष्ट्रीय राइफल्स में तैनात थे. Also Read - भारत की पड़ी POK पर नजर तो घबराया पाकिस्तान, सेना प्रमुख बाजवा ने सैनिकों के सामने कबूला सच

सरकार की ओर से जारी बयान के अनुसार मुख्यमंत्री ने शहीद जवान के निकटतम परिजन को दस लाख रुपये की आर्थिक सहायता तथा परिवार के एक योग्य सदस्य को नौकरी दिये जाने की घोषणा की. Also Read - जम्मू कश्मीर: पाकिस्तान से आया संदिग्ध कबूतर पकड़ा गया, कूट भाषा में लिखे संदेश को समझने की कोशिश कर रहे अधिकारी