भोपालः मध्यप्रदेश में सत्ताधारी कांग्रेस के भाजपा में सेंधमारी के प्रयास थम नहीं हैं. कांग्रेस की ओर से कई भाजपा विधायकों के संपर्क में होना का दावा किया जा रहा है, वहीं भाजपा के एक विधायक के वल्लभ भवन में मुख्यमंत्री कमलनाथ से कथित तौर पर मुलाकात की चर्चा है. राज्य में सत्ताधारी कांग्रेस और विपक्षी भाजपा के बीच सियासी घमासान जारी है. दोनों दलों की बंद कमर में बैठकें हो रही है. आगे की रणनीति बन रही है. इसी बीच तीन विधायकों के कांग्रेस के संपर्क में होने की बात कही जा रही है. राज्य सरकार के जनसंपर्क मंत्री पी.सी. शर्मा भी कह चुके हैं कि भाजपा के विधायक कांग्रेस के संपर्क में हैं. Also Read - Oxygen issue : बीजेपी ने पूछा, दिल्‍ली सरकार क्‍यों सोचती हैं कि केंद्र भेदभाव कर रहा है?

नदी न्यास के अध्यक्ष कंप्यूटर बाबा ने भी दावा किया कि भाजपा के चार विधायक उनके संपर्क में हैं. मुख्यमंत्री कमलनाथ जब कहेंगे, इन विधायकों को साथ लेकर वह उनके सामने हाजिर हो जाएंगे. कांग्रेस के सूत्रों का दावा है कि तीन विधायक सीधे तौर पर कांग्रेस के संपर्क में हैं. भाजपा विधायक संजय पाठक गुरुवार को वल्लभ भवन में नजर आए तो कथित तौर पर मुख्यमंत्री कमलनाथ से उनकी मुलाकात की चर्चा ने जोर पकड़ लिया. इस संदर्भ में संजय पाठक की प्रतिक्रिया नहीं मिल सकी है. पाठक पूर्व में कांग्रेस के विधायक रह चुके हैं. उन्होंने दोपहर में संवाददाताओं से कहा कि उनके कांग्रेस सहित सभी पार्टियों के नेताओं से संबंध हैं, मगर फिलहाल उनका घर भाजपा है. Also Read - विधानसभा चुनाव में करारी हार की समीक्षा के लिए समिति बनाएगी कांग्रेस

Also Read - Who is Himanta Biswa Sarma: पूर्वोत्तर के चाणक्य कहे जाते हैं हेमंत बिस्व सरमा, कभी कांग्रेस सरकार में थे मंत्री, आज बनेंगे असम के CM