नई दिल्ली. भारत के हवाई क्षेत्र में पाकिस्तान के लड़ाकू विमानों के घुसने और पड़ोसी देश में भारतीय वायुसेना के एक पायलट को हिरासत में लिए जाने के बाद बुधवार को सशस्त्र बलों के प्रमुखों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सुरक्षा की ताजा स्थिति की जानकारी दी. सूत्रों ने यह बताया. थल सेना, नौसेना और वायुसेना के प्रमुखों ने प्रधानमंत्री मोदी से पिछले 24 घंटों में दूसरी बार मुलाकात की है. सूत्रों ने बताया कि बुधवार शाम तीनों प्रमुखों ने प्रधानमंत्री से उनके आधिकारिक आवास पर मुलाकात की और उन्हें सुरक्षा के ताजा परिदृश्य की जानकारी दी.

भारत ने पाकिस्तान को चेताया- हमारे पायलट के साथ न हो बदसलूकी, सुरक्षित लौटाएं

इससे पहले, दिन में प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) में सुरक्षा एवं खुफिया विभाग के शीर्ष अधिकारी जुटे. पाकिस्तान में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के प्रशिक्षण शिविर पर मंगलवार सुबह किए गए भारत के हवाई हमले के बाद हुए नए घटनाक्रम के मद्देनजर वे पीएमओ पहुंचे थे. सूत्रों ने बताया कि दिन में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल, थलसेना, नौसेना और वायुसेना के वरिष्ठ अधिकारी तथा अन्य सुरक्षा अधिकारी मौजूदा सुरक्षा स्थिति पर चर्चा करने के लिए मिले.

शीर्ष रक्षा एवं सुरक्षा अधिकारियों ने बाद में प्रधानमंत्री को ताजा घटनाक्रमों की जानकारी दी, जिनमें हवाई झड़प भी शामिल है. इस घटना के तहत पाकिस्तान के एक लड़ाकू विमान को मार गिराया गया, जबकि भारतीय वायुसेना को भी अपना एक मिग 21 गंवाना पड़ा. इस कार्रवाई के दौरान मिग के पायलट “लापता” हो गए. जम्मू क्षेत्र के राजौरी में पाकिस्तान के एक एफ -16 लड़ाकू विमान को वायुसेना ने मार गिराया.