नई दिल्ली: भारतीय सेना ने चीन और पाकिस्तान से लगे बॉर्डर पर जवानों की तैनाती के लिए स्पेशल ट्रेन चलाई है. करीब 950 सैनिकों को लेकर एक विशेष ट्रेन शुक्रवार को बेंगलुरु से जम्मू रवाना हुई. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि एक अन्य विशेष ट्रेन शनिवार को बेंगलुरु से ही चलेगी जो सैनिकों को पूर्वोत्तर क्षेत्र तक ले जाएगी ताकि उन्हें चीन के साथ लगी सीमा पर तैनात किया जा सके. Also Read - कश्मीर में भारत 22 अक्टूबर को मनाएगा 'काला दिवस', 1947 में पाकिस्तान ने घाटी में कराई थी हिंसा

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि गृह मंत्रालय और रेलवे से मंजूरी के बाद ट्रेनों को व्यवस्था की गयी ताकि दोनों देशों से लगती सीमाओं पर जवानों की तैनाती की जा सके. कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन (बंद)के कारण रेलवे ने सभी यात्री ट्रेनों को तीन मई तक के लिए रद्द कर दिया है. सूत्रों ने कहा कि सेना के जवान बेंगलुरु, बेलगाम और सिकंदराबा में सैन्य प्रशिक्षण संस्थानों में पेशेवर पाठ्यक्रम पूरा करने के बाद अपनी फील्ड ड्यूटी में लौट रहे हैं. Also Read - पाकिस्तान में मचा सियासी घमासान- आमने सामने आई सेना और पुलिस, छुट्टी पर चले गए अधिकारी

सूत्रों ने कहा कि सभी जवानों को अनिवार्य रूप से पृथकवास अवधि से गुजरना पड़ा और वे फिट हैं. ट्रेन 20 अप्रैल को जम्मू पहुंचेगी. दूसरी ट्रेन न्यू जलपाईगुड़ी होते हुए गुवाहाटी तक जाएगी. भारतीय सेना ने कोरोना वायरस महामारी से अपने 13 लाख कर्मियों को बचाने के लिए कई उपाय किए हैं. Also Read - आतंकियों को पनाह देना अब पाकिस्तान को पड़ेगा भारी, ग्रे लिस्ट से ब्लैक लिस्टेड भी हो सकता है

भारतीय सेना ने बृहस्पतिवार को अपने सभी सैन्य प्रतिष्ठानों, छावनियों, मुख्यालयों और फील्ड यूनिटों को निर्देश दिया था कि लॉकडाउन संबंधी सरकार के ताजा दिशानिर्देशों के मद्देनजर 19 अप्रैल तक बलों की आवाजाही पर पूरी तरह से रोक रहेगी.

(इनपुट भाषा)