कोकराझार: सेना ने चिरांग जिले और मानस रिर्जव वन में एनडीएफबी (एस) के दो वरिष्ठ नेताओं को पकड़ने के लिए एक सघन तलाशी अभियान शुरू किया है इसमें हेलीकॉप्टरों की सेवा ली जा रही है और 1000 जवानों को भी काम में लगाया गया है.

सूत्रों ने रविवार की शाम को बताया कि एनडीएफबी (एस) के खूंखार उग्रवादियों जी बिदई और बाथा की मौजूदगी के बारे में खुफिया सूचना मिलने पर कोकराझार और चिरांग जिलों में सेना की इकाई और एसएसबी ने संयुक्त रूप से चिरांग जिले और भारत- भूटान सीमा से लगे मानस रिर्जव वन में रविवार से सघन तलाशी अभियान चलाया. इन उग्रवादियों के खिलाफ पुलिस में कई मामले दर्ज हैं.

छत्तीसगढ़: नक्सली हमले में बीएसएफ का एक जवान घायल

सूत्रों ने बताया कि सेना ने इस अभियान में खोजी कुत्तों को भी शामिल किया है. उन्होंने बताया कि सघन तलाशी अभियान और इलाके की घेराबंदी के लिए क्षेत्र में 1000 से अधिक सुरक्षा कर्मियों को तैनात किया गया है. (इनपुट-भाषा)