नई दिल्ली: भारतीय थल सेनाध्यक्ष जनरल मनोज मुकुंद नरवणे सोमवार को सीमा पर सेना की तैयारियों का जायजा लेने के लिए जम्मू पहुंचे. उन्होंने पाकिस्तान के सीजफायर उल्लंघन के मामलों के खिलाफ एक बार फिर से भारतीय सेना की जीरो टॉलरेंस की नीति पर पर बात की. जम्मू के दौरे के दौरान सेना प्रमुख नरवणे ने पाकिस्तान के साथ सीमा पर तैनात सैनिकों की ऑपरेशनल तैयारियों की समीक्षा की. सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने जम्मू की यात्रा के दौरान पाकिस्तान द्वारा संघर्ष विराम उल्लंघन और आतंकवादियों द्वारा घुसपैठ के प्रयासों के खिलाफ ‘जीरो टॉलरेंस’ की नीति पर जोर दिया. Also Read - पाकिस्तान ने जारी किया नया नक्शा, कश्मीर सहित भारत के इन क्षेत्रों को बताया अपना

उन्होंने कहा कि सभी सर्विसेस की एजेंसियां और सरकारें मिलकर काम कर रही हैं और हमारे विरोधियों द्वारा छेड़े जा रहे छद्म युद्ध की नापाक डिजाइन को विफल करने के लिए हम ऐसा ही करते रहेंगे. सेना प्रमुख ने भारतीय सेना पर किसी भी परिस्थिति का सामना करने और दुश्मनों के दुस्साहस को विफल करने की क्षमता पर भरोसा जताया. Also Read - इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट के लिए 16 सदस्यीय पाक स्क्वाड का ऐलान; बाहर हुए 4 खिलाड़ी

नरवणे ने फील्ड फॉर्मेशन कमांडर्स और अग्रिम इलाकों में तैनात सैनिकों से बातचीत भी की. इसके अलावा उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पश्चिमी कमान के सभी अधिकारियों को संबोधित किया और उनका मनोबल बढ़ाया. Also Read - पाकिस्तान के खिलाफ खेली 183 रनों की पारी विराट कोहली की सर्वश्रेष्ठ पारियों में से एक: गौतम गंभीर