Jammu & Kashmir, Sopore, Army personnel,  indian army: इंडियन आर्मी के जवानों ने कश्मीर के कुपवाड़ा में बर्फ में फंसी एक नव प्रसूता महिला और उसके नवजात बचाया है. दरअसल जम्मू- कश्मीर के सोपोर में अस्‍पताल से अपने घर लौट रही एक महिला और उसके नवजात शिशु घर बर्फीले रास्‍ते में फंस गए थे. जब इसकी जानकारी सेना को म‍िली तो स्थिति की गंभीरता को देखते हुए तुरंत ही मदद के ल‍िए न‍िकल पड़े.Also Read - Sarkari Naukri 2022 - यहां निकली हैं बंपर भर्तियां, जल्दी करें यह मौका चूकने की गलती नहीं कर सकते आप; तुरंत अप्लाई करें

सेना के जवान  नसिर्ंग स्टाफ और चिकित्सा उपकरणों के साथ मौके पर पहुंचे.  जवानों ने देखा कि रास्‍ते में जमी बर्फ में महिला फंसी हुई थी. उन्‍होंने घुटने तक जमी बर्फ में पैदल चल कर नवप्रसूता महिला और नवजात बच्‍चे को एक स्ट्रेचर पर रखकर उसके घर तक पहुंचाया. Also Read - ऐसे जीतेंगे जनता का दिल : अग्निपथ योजना की तारीफ करने वाले युवक को कांग्रेस नेता ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

सैनिकों ने महिला को घर पहुंचाने में नर्सिंग की सहायता दी और स्‍थानीय लोगों की भी मदद की. सोपोर जिले में बीते दिन पज़लपोरा से दनियावर तक लगभग 3.5 किमी तक भारी बर्फ के कारण सड़क अवरुद्ध हो गई थी. Also Read - Indian Army Agniveer Bharti Rally Dates : सेना भर्ती रैली के लिए शेड्यूल जारी, आपके राज्‍य में किस तारीख को आयोजित होगी आर्मी अग्निवीर भर्ती रैली, जानें

सेना ने एक बयान में कहा, पीड़ित परिवार और नागरिक प्रशासन ने मानवीय प्रयासों के लिए सेना की टुकड़ी को धन्यवाद दिया और संकट के वक्त सेना को अवाम के सच्चे दोस्त के रूप में सराहा.

अब तक सेना के जवानों ने कश्मीर में दो दर्जन से अधिक गर्भवती महिलाओं को बफीर्ले इलाकों से बाहर निकाला है. बच्चे के जन्म के बाद पिता सैनिकों को मिठाई बांटने ऑपरेटिंग बेस पर पहुंचे.