Covid-19: क्षेत्र में ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए भारतीय सेना ने ऑक्सीजन प्लांट को फिर से शुरू करने और चंडीगढ़, पटियाला और फरीदाबाद में 100 बेड के कोविड अस्पतालों को चालू करने के लिए दिन-रात काम कर रही है. डिफेंस के जनसंपर्क कार्यालय (पीआरओ) ने शनिवार को जानकारी दी. पीआरओ ने ट्वीट कर कहा, “चंडीगढ़, पटियाला और फरीदाबाद के कोविड अस्पतालों में हल्के से मध्यम लक्षणों वाले रोगियों को समायोजित करने की क्षमता होगी, 10 मई को नागरिक आबादी के लिए उद्घाटन और खोलने की संभावना है.” Also Read - Indian Army Recruitment 2021: भारतीय सेना में बिना परीक्षा के बन सकते हैं अधिकारी, बस होनी चाहिए ये योग्यता, 2 लाख से अधिक होगी सैलरी

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, “सेना के इलेक्ट्रॉनिक्स और मैकेनिकल इंजीनियर्स की एक समर्पित टीम नंगल में भाखड़ा ब्यास प्रबंधन के तहत ऑक्सीजन संयंत्र को फिर से शुरू करने के लिए चौबीसों घंटे काम कर रही है.” पश्चिमी कमान ने एक अलग ट्वीट में कहा कि पॉलीक्लिनिक के साथ एंबुलेंस की कमी को दूर करने के लिए यह अपने संसाधनों में जुट गया था और रक्षा दिग्गजों द्वारा उपयोग के लिए एनसीआर (राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र) में पॉलीक्लिनिक्स में आठ सर्विस एंबुलेंस प्रदान की थी. Also Read - Coronavirus in Delhi: दिल्ली में कोरोना 89 नए मामले सामने आए, 24 घंटे में 11 लोगों की मौत

पश्चिमी कमान के सेना कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल आर पी सिंह ने कहा कि कमान सैन्य कोविड फील्ड अस्पतालों की स्थापना कर रही है और पंजाब में बंद पड़े ऑक्सीजन संयंत्रों को दोबारा शुरू करने के लिए स्वास्थ्यकर्मियों को तकनीकी एवं अन्य सहायता उपलब्ध करा रही है. बयान के मुताबिक, अधिकारी ने कोविड संकट से निपटने में सहायता के लिए हरसंभव सहायता का आश्वासन दिया है. Also Read - Punjab: पूर्व IPS विजय प्रताप AAP में हुए शामिल, केजरीवाल बोले- कोई सिख ही होगा सीएम उम्‍मीदवार

इसके मुताबिक, पश्चिमी कमान के क्षेत्र में आने डीआरडीओ द्वारा स्थापित अस्पतालों में अब तक कमान की तरफ से 108 डॉक्टरों, 14 नर्सिंग अधिकारियों और 205 चिकित्साकर्मियों को तैनात किया गया है.

(इनपुट आईएएनएस)