नई दिल्लीः चीन (China) से उपजे कोरोना वायरस (Coronavirus) ने अब पूरी दुनिया पर कब्जा कर लिया है. दुनियाभर के तमाम देश इस महामारी से जूझ रहे हैं. इसका सबसे ज्यादा प्रभाव देखने को मिल रहा है अमेरिका और इटली में. जहां 79 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी हैं, वहीं 13 लाख के करीब लोग इस महामारी से जूझ रहे हैं. इस बीच अमेरिका में बसे सभी विदेशी अपने-अपने घर जाने को परेशान हैं. Also Read - World Environment Day 2020: महिलाओं द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली ये चीजें भी कर रही हैं पर्यावरण का विनाश

भारतीय राजदूत तरनजीत सिंह संधू (Taranjit Singh Sandhu) ने बताया कि अमेरिका में बसे करीब 25 हजार भारतीय कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बाद अपने वतन वापस जाना चाहते हैं. सभी भारतीयों का देश वापसी के लिए प्रत्यावर्तन उड़ानों के लिए पंजीकरण कर लिया गया है, जो जल्द ही अपने घर वापस पहुंच सकेंगे. Also Read - World Environment Day 2020 के मौके पर अनुष्का कर रही हैं ये अपील, शेयर किया VIDEO 

तरनजीत सिंह ने कहा कि जो भी भारतीय अमेरिका से वापस अपने देश जाने के इच्छुक हैं, उन्हें यहां से निकालने का काम जारी रहेगा. पहली फ्लाइट सैन फ्रैसिस्को से पहली फ्लाइट कुछ ही देर में उड़ान भरेगी. इसके बाद 7 अन्य विमान 4 अलग-अलग जगहों से भारत के लिए उड़ान भरेंगे. ये सभी एयर इंडिया के हब हैं जहां से भारत के अलग-अलग शहरों के लिए उड़ान भरेंगी.

न्यूज एजेंसी एएनआई को दिए इंटरव्यू में तरनजीत सिंह संधू ने कहा कि, भारत वापसी के लिए पहले सप्ताह के लिए 25 हजार नागरिकों का पंजीकरण किया गया है. इनकी उड़ानें सुनिश्चित कर दी गई हैं. पहली सात उड़ानें जल्द ही टेक-ऑफ करने वाली हैं.

भारतीय नागरिकों को वापस उनके देश पहुंचाने का काम जारी है. लेकिन, इन सभी नागरिकों को देश वापस पहुंचाने से पहले इनका मेडिकल चेकअप कराया जाएगा और इनकी मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद नतीजों के आधार पर ही फैसला लिया जाएगा कि इन्हें वापस जाने की अनुमति दी जाएगी या नहीं.