नई दिल्ली: देश के पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का आज दोहपर करीब 12 बजे एम्स में निधन हो गया. इसके बाद शोक की लहर दौड़ गई. पीएम नरेंद्र मोदी ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उन्होंने अपना मूल्यवान मित्र खो दिया है. पीएम मोदी के साथ सरकार और विपक्ष से जुड़े कई नेताओं ने शोक व्यक्त किया है. अरुण जेटली का पार्थिव शरीर रविवार को अंतिम दर्शन के लिए सुबह 10 बजे बीजेपी मुख्यालय में रखा जाएगा. इसके बाद करीब 2. 30 बजे निगम बोध घात पर अंतिम संस्कार किया जाएगा.

Delhi: Finance Minister Nirmala Sitharaman pays tribute to former Union Finance Minister Arun Jaitley, who passed away at All India Institute of Medical Sciences, earlier today. pic.twitter.com/LjnJDL2XrP

दिल्ली में कैलाश कॉलोनी में उनके घर पर पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन किए जा रहे हैं. केंद्र सरकार के कई मंत्री अंतिम दर्शन करने पहुंच रहे हैं. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने शोक जताते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की. अमित शाह, राजनाथ सिंह, निर्मला सीतारमण, रविशंकर प्रसाद सहित बीजेपी और केंद्र सरकार के सभी प्रमुख नेताओं ने भी अरुण जेटली को श्रद्धांजलि अर्पित की है. पीएम मोदी इस समय विदेशी दौरे पर हैं. उन्होंने अरुण जेटली के निधन पर शोक जताते हुए कहा कि उन्होंने अपना मूल्यवान दोस्त खो दिया है.

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस नेता सोनिया गांधी, राहुल गांधी भी अरुण जेटली को श्रद्धांजलि अर्पित करने पहुंचे.

जेटली के निधन पर बोले पीएम नरेंद्र मोदी- मैंने अपना मूल्यवान दोस्त खो दिया

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के निधन पर दुख जताया है. मुख्यमंत्री ने जेटली के निधन पर शोक जताते हुए कहा कि जेटली का निधन उनकी व्यक्तिगत क्षति है. राज्य सरकार ने दो दिनों के राजकीय शोक की घोषणा की है. इस बीच, मुख्यमंत्री ने अपने सारे कार्यक्रम रद्द कर दिए. बिहार सरकार के साथ हरियाणा सरकार ने भी हरियाणा में दो दिनों का राजकीय शोक घोषित किया है. उत्तराखंड सरकार ने भी राज्य में एक दिन का राजकीय शोक घोषित किया है. राजकीय शोक पर राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा तथा कोई शासकीय मनोरंजन के कार्यक्रम आयोजित नहीं होंगे.

मुख्यमंत्री ने अपने शोक संदेश में कहा, “जेटली ने उच्च राजनीतिक मूल्यों एवं आदर्शो की बदौलत सार्वजनिक जीवन में उच्च शिखर को प्राप्त किया. उन्होंने अपने व्यक्तित्व की बदौलत राजनीतिक सीमाओं के परे सभी विचारधारा के राजनीतिक दलों का आदर एवं सम्मान प्राप्त किया.” मुख्यमंत्री ने कहा, “अरुण जेटली से मेरा व्यक्तिगत संबंध था, उनके निधन से मैं काफी मर्माहत हूं. जेटली जी का निधन देश के लिए एक अपूरणीय क्षति है, जिसे कभी भरा नहीं जा सकता, उनकी कमी हमेशा खलेगी.”

सोनिया ने अरुण जेटली के निधन पर जताया दुख, कहा- योगदान के लिए हमेशा किया जाएगा याद

जेटली के निधन पर राज्य सरकार ने दो दिनों के राजकीय शोक की घोषणा की है. मुख्यमंत्री ने कहा कि वह ईश्वर से प्रार्थना करते हैं कि दिवंगत आत्मा को शांति मिले और परमात्मा दुख की इस घड़ी में उनके परिजनों को धैर्य प्रदान करने की शक्ति दे.

इसी बीच अरुण जेटली के निधन के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का शनिवार को गया जाने का कर्यक्रम भी रद्द कर दिया गया है. पूर्व वित्त मंत्री जेटली का शनिवार की दोपहर दिल्ली में निधन हो गया.

नहीं रहे मोदी सरकार 1.0 के संकटमोचक अरुण जेटली, पीएम मोदी और शाह ने ऐसे जताया शोक