नई दिल्ली: बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरूण जेटली ने तीन तलाक विधेयक के मामले में कांग्रेस पर दोहरा मानदंड अपनाने का आरोप लगाया और कहा कि लोकसभा में इस विधेयक को समर्थन देने के बाद अब विपक्षी पार्टी राज्यसभा में इसे अटकाने का प्रयास कर रही है.

बीजेपी संसदीय दल की बैठक को संबोधित करते हुए वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कहा कि सरकार इस विधेयक पर चर्चा कराना चाहती है जिसमें तीन तलाक को दंडनीय अपराध घोषित करने का प्रस्ताव किया गया है. सरकार चाहती है कि इस पर जीएसटी विधेयक जैसी आमसहमति बनाई जाए.

संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने बैठक के बाद संवाददाताओं को इस आशय की जानकारी दी. कुमार ने जेटली को उद्धृत करते हुए कहा कि कांग्रेस इस मामले में दोहरा मानदंड प्रदर्शित कर रही है. लोकसभा में समर्थन देने के बाद कांग्रेस अब राज्यसभा में इसे अटकाने का प्रयास कर रही है.

बीजेपी संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह मौजूद थे. राज्यसभा में तीन तलाक विधेयक को पारित कराने के लिये सरकार को विपक्ष और अन्य गैर राजग दलों के समर्थन की जरूरत पड़ेगी.