नई दिल्ली. पुलवामा हमले के बाद शुक्रवार की सुबह सीसीएस की मीटिंग प्रधानमंत्री निवास पर हुई. इसके बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि पाकिस्तान को वैश्विक स्तर पर अलग-थलग किया जाएगा. साथ ही पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस लेने का निर्णय लिया गया है. वाणिज्य मंत्रालय इसके संबंध में सूचना जारी करेगा. हालांकि, अरुण जेटली ने कहा कि कई अन्य मुद्दों पर बात हुई, जिसका खुलासा नहीं किया जा सकता है.

अरुण जेटली ने कहा कि भारत कई प्रमुख देशों से संपर्क करके इस मुद्दे पर बात करेगा. कश्मीर में घाटी में अमन-चैन बनाए रखने के लिए सुरक्षातंत्र कड़ा कदम उठाएगी. इसके साथ ही इस हमले में शामिल लोगों को इसकी बहुत बड़ी कीमत चुकानी होगी. गृहमंत्री राजनाथ सिंह आज श्रीनगर जा रहे हैं और वहां की स्थिति का जायजा लेने के बाद शनिवार को सर्वदलिय बैठक लेकर लोगों को मामले के बारे में बता सकते हैं.
पुलवामा अटैक: अफसरों को ‘मुखबीरी’ का शक, आतंकवादियों तक कैसे पहुंची सूचना इस पर जांच शुरू