नई दिल्ली. दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल अपने तीन मंत्रियों के साथ उपराज्यपाल दफ्तर में धरना दे रहे हैं. गुरुवार को धरने का चौथा दिन है. सुबह अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर दिल्ली वासियों की डिमांड रखी. वहीं, उन्होंने एक अन्य ट्वीट में जिक्र किया कि पुणे से आए उनके भाई को उनसे मिलने नहीं दिया जा रहा है..

अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार की सुबह ट्वीट करके दिल्ली वासियों की दो मांगें रखी. इसमें उन्होंने सबसे पहल कहा कि आईएएस अफसरों की हड़ताल खत्म करो. इसके बाद उन्होंने राशन की डोर स्टेप डिलिवरी लागू करने की बात कही. उन्होंने कहा, आज चौथा दिन है इनकी मंशा ठीक नहीं लग रही.

एक अन्य ट्वीट में केजरीवाल ने कहा, मेरा भाई पुणे से मिलने आया. उसे मिलने नहीं दिया गया. ये तो गलत है.

वहीं, केजरीवाल ने एक ट्वीट को रीट्वीट किया जिसमें पीएम नरेंद्र मोदी को अरविंद केजरीवाल की लिखी चिट्ठी का जिक्र है. इसमें लिखा है, केंद्र सरकार के हाथों में आईएएस अफसरों की पूरी शक्ति होती है. दिल्ली एक अभूतपूर्व स्थिति से गुजर रही है और लेफ्टिनेंट गवर्नर में इसमें दखल देने से इनकार कर रहे हैं. पीएम से अनुरोध है कि वह आईएएस अफसरों का स्ट्राइक खत्म कराएं, जिससे दिल्ली में कार्य शुरू हो सके.