नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने बुधवार को कहा कि दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी में वाईफाई हॉटस्पॉट (Hotspot) स्थापित करने का काम शुरू कर दिया है और यहां छह महीने में 11,000 हॉटस्पॉट लगाए जाएंगे. मीडिया को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि पूरे शहर में 11,000 हॉटस्पॉट होंगे, जिनमें से 4,000 हॉटस्पॉट बस शेल्टर और 7,000 विभिन्न क्षेत्रों में स्थापित किए जाएंगे.

केजरीवाल ने कहा, “70 विधानसभा क्षेत्रों में से प्रत्येक को 100 हॉटस्पॉट मिलेंगे.” केजरीवाल ने कहा कि 100 करोड़ रुपये की लागत वाली यह परियोजना छह महीने में पूरी हो जाएगी. हम 16 दिसंबर को आधिकारिक तौर पर पहले 100 हॉटस्पॉट का उद्घाटन करेंगे. बाद में हर हफ्ते 500 हॉटस्पॉट स्थापित किए जाएंगे. हम छह महीने में सभी 11,000 हॉटस्पॉट स्थापित करेंगे.

वाईफाई परियोजना आम आदमी पार्टी का एक चुनावी वादा भी रहा है. दिल्ली मंत्रिमंडल ने अगस्त में राष्ट्रीय राजधानी में मुफ्त वाईफाई हॉटस्पॉट लगाए जाने को मंजूरी दी थी. इस काम के लिए चालू वित्तवर्ष में लगभग 150 करोड़ रुपये का बजट प्रावधान पहले ही अलग रखा गया है.

केजरीवाल ने कहा कि प्रत्येक उपयोगकर्ता को प्रति माह 15 जीबी सीमा प्रदान की जाएगी. उन्होंने कहा कि परियोजना में देरी हुई, क्योंकि सरकार ने कई मॉडलों को संचालित करने की कोशिश की, जो काम नहीं कर सके. उन्होंने कहा, “हमने आखिरकार मॉडल को चुनने का फैसला किया और हम अब इसका उपयोग कर रहे हैं.” उन्होंने कहा कि 150 से 200 लोग एक साथ एक वाईफाई हॉटस्पॉट का उपयोग कर सकते हैं. केजरीवाल ने कहा, “इसके अलावा एक मोबाइल एप्लिकेशन लॉन्च किया जाएगा, जिससे आप स्वचालित रूप से दूसरे हॉटस्पॉट से जुड़ जाएंगे.”

(इनपुट-आईएएनएस)