दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को PMO पर आरोप लगाते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी(आप) और कांग्रेस के नेताओं को बुधवार को हिरासत में लिए जाने के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय जिम्मेदार है।

केजरीवाल, दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुली गांधी को हिरासत में रखने के लिए भाजपा सांसद सत्यपाल सिंह द्वारा दिल्ली पुलिस की आलोचना के बाद आप नेता ने पुलिस को क्लीन चिट दे दी। यह भी पढ़ें: OROP पूर्व सैनिक खुदखुशी मामला: राहुल गांधी को RML अस्पताल के अंदर जाने से रोका, मनीष सिसोदिया को किया गिरफ़्तार

केजरीवाल ने ट्वीट किया कि, “महोदय, यह न तो दिल्ली पुलिस का और न ही गृह मंत्रालय का काम है बल्कि बुधवार को तो प्रधानमंत्री कार्यालय हालात की निगरानी कर रहा था। उन्होंने इसे बुरी तरीके से संभाला।”

मुंबई पुलिस के पूर्व प्रमुख सत्यपाल सिंह ने इससे पहले ट्वीट किया था कि दिल्ली पुलिस को स्थिति से बेहतर ढंग से निपटना चाहिए था लेकिन उसने इसे पूरी तरह से गलत ढंग से निपटा।

वन रैंक वन पेंशन को लागू कराने के मुद्दे पर आत्महत्या कर चुके सैनिक के परिवार वालों से बुधवार को केजरीवाल और राहुल गांधी ने मिलने की कोशिश की तो दोनों को दिल्ली पुलिस ने कई घंटे हिरासत में रखा था।

सैनिक के परिवार वालों से मुलाकात के बाद दिल्ली के उप मुख्यमंत्री सिसोदिया हिरासत में लिए गए पहले व्यक्ति थे।