नई दिल्ली: दिल्ली में अभी तक कुल 4 लाख 78 हजार कोरोना टेस्ट हुए हैं. कोरोना की टेस्टिंग में और तेजी लाने के लिए दिल्ली सरकार ने अब छह लाख टेस्ट किट खरीदी हैं. इसका मतलब यह है कि बीते 3 महीने में महीने में दिल्ली में जितने कोरोना टेस्ट किए गए हैं आने वाले दिनों में उसके मुकाबले दिल्ली में कहीं ज्यादा कोरोना टेस्ट किए जाएंगे. 2 सप्ताह पहले तक दिल्ली में प्रतिदिन लगभग 5-6 हजार व्यक्तियों के कोरोना टेस्ट किए जा रहे थे. अब दिल्ली में कोरोना टेस्ट की संख्या बढ़ाकर लगभग 20 हजार प्रतिदिन कर दी गई है. आने वाले दिनों में इसे और बढ़ाया जाएगा. Also Read - वैज्ञानिकों ने खोजा कोरोना से जुड़ी गंभीर बीमारियों से बच्चों को बचाने का रहस्य, जानिए क्या है इनका दावा  

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा ‘स्वयं दिल्ली सरकार ने 6 लाख एंटीजेंन टेस्ट किट खरीदी हैं. अब कोरोना का टेस्ट कराने के लिए दिल्ली वालों को धक्के नहीं खाने पड़ रहे. सभी लैब्स में प्रतिदिन पूरी क्षमता के साथ टेस्ट हो रहे हैं.’ एंटीजन टेस्ट के जरिए कोरोना जांच का नतीजा महज 30 मिनट के अंदर आ जाता है. एंटीजन टेस्ट के जरिए कोरोना का टेस्ट आसान हुआ है और अब इसी के माध्यम से टेस्टिंग बढ़ाई जा रही है. माना जा रहा है जुलाई के महीने में दिल्ली में प्रतिदिन लगभग 30 हजार कोरोना टेस्ट किए जा सकते हैं. Also Read - कोरोना महामारी के बीच फिल्म निर्माता बना रहे हैं ये प्लान, तापसी पन्नू की आगामी फिल्म से हो सकती है शुरुआत

दिल्ली में कोरोना संक्रमण की स्थिति पर दिल्ली सरकार ने कहा ’30 जून तक यहां लगभग एक लाख केस पहुंच जांएगे और अस्पतालों में 15 हजार बेड की आवश्यकता होगी. इसी तरह, 15 जुलाई तक 2 लाख केस हों जाएंगे और 33 हजार बेड की जरूरत पड़ेगी. 31 जुलाई तक करीब साढ़े 5 लाख केस हो जाएंगे और उसके लिए दिल्ली के अस्पतालों में करीब 80 हजार बेड की जरूरत पड़ेगी.’ इन्हीं तैयारियों के मद्देनजर दिल्ली के छतरपुर इलाके में 10 हजार बेड का विशेष कोविड केयर सेंटर तैयार किया जा रहा है. Also Read - अमेरिका में नए वीजा नियम से लाखों भारतीय छात्र परेशान, क्या नरमी बरतेगा ट्रंप प्रशासन?

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह संयुक्त रूप से छतरपुर के राधा स्वामी सत्संग ब्यास परिसर में स्थित सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर की तैयारियों का निरीक्षण कर चुके हैं. केजरीवाल ने तैयारियों का निरीक्षण के बाद कहा, ‘मुसीबत की इस घड़ी में दिल्ली को बचाने के लिए मैंने सबसे सहयोग मांगा और सबने बढ़ चढ़ कर सहयोग किया. केंद्र सरकार और राधा स्वामी ब्यास के सहयोग से अपने दिल्ली वालों के लिए इतना बड़ा कोरोना सेंटर बन गया है.’

गौरतलब है कि दिल्ली में बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना से 66 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है. दिल्ली में अभी तक कोरोना से कुल 2558 व्यक्तियों की मृत्यु हो चुकी है. वहीं 24 घंटे के दौरान ही 2948 नए कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए हैं. दिल्ली में अब तक 80,188 कोरोना पॉजिटिव मामले आ चुके हैं.