नई दिल्ली: तीसरी बार दिल्ली का मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने से एक दिन पहले ‘आप’ के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरवाल ने अपने संभावित कैबिनेट सहयोगियों के साथ रात्रिभोज किया और राष्ट्रीय राजधानी के विकास के ‘‘रोडमैप’’ पर चर्चा की. चर्चा में आगामी तीन महीनों के दौरान उठाए जाने वाले कदमों को प्राथमिकता दी गई. Also Read - दिल्ली सरकार ने केंद्र से मांगे 5000 करोड़ रुपए, कहा- हमें खर्च के लिए ज़रूरत है

आप के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया ने पत्रकारों को बताया कि केजरीवाल ने मंत्रिपद की शपथ लेने जा रहे अपने सभी साथियों से ‘गारंटी कार्ड’ में शामिल वादों को प्रतिबद्धता के साथ पूरा करने के लिये कहा. उन्होंने कहा, ‘हमें शपथ लेते ही गारंटी कार्ड में किये गए अपने वादों को पूरा करने की दिशा में काम शुरू करने के लिये कहा गया है.’ Also Read - कोरोना: केजरीवाल ने कहा- अधिकतर लोग खुद कर रहे अपना इलाज, लॉकडाउन समाधान नहीं

केजरीवाल ने दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले ‘केजरीवाल की 10 गारंटियां’ नामक कार्ड जारी किया था. कार्ड में केजरीवाल ने दिल्ली के लोगों को कुछ गारंटी दी, जिसमें दो करोड़ पौधे लगाने, यमुना नदी को साफ करने और अगले पांच वर्षों में दिल्ली में प्रदूषण को कम करने की योजना शामिल है. Also Read - दिल्ली में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण मामले, कांग्रेस और भाजपा ने आप सरकार पर साधा निशाना

केजरीवाल ने रात्रिभोज कार्यक्रम के बारे में ट्वीट भी किया. उन्होंने लिखा, ‘दिल्ली मंत्रिमंडल के नामित साथियों के लिये अपने आवास पर रात्रिभोज आयोजित किया. चुनाव में उनकी जीत पर उन्हें बधाई दी और दिल्ली सरकार में मंत्री के रूप में उनके कार्यकाल की सफलता की कामना की.’

केजरीवाल रविवार सुबह 10 बजे अपने मंत्रिमंडल सहयोगियों के साथ शपथ ग्रहण करेंगे. उनके साथ छह मंत्री भी शपथ लेंगे . इनमें मनीष सिसोदिया, सत्येंद्र जैन, गोपाल राय, कैलाश गहलोत, इमरान हुसैन और राजेंद्र गौतम शामिल हैं. आप ने 70 सदस्यीय दिल्ली विधानसभा में 62 सीटों पर जीत दर्ज की है जबकि भाजपा ने आठ सीटें जीतीं. कांग्रेस लगातार दूसरी बार खाता खोलने में नाकाम रही.

(इनपुट भाषा)