नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनाव की वोटिंग खत्म होने के बाद अब ईवीएम को लेकर घमासान मचा गया है. आम आदमी पार्टी ने ईवीएम से छेड़छाड़ की आशंका जताई है. आप आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने रविवार को प्रेस वार्ता करके चुनाव आयोग पर गंभीर आरोप लगाए हैं. वहीं चुनाव आयोग द्वारा दिल्ली विधानसभा चुनाव के अंतिम मतदान प्रतिशत के ऐलान में देरी को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ‘पूरी तरह चौंकाने वाला’ करार देते हुए रविवार को सवाल किया कि मतदान खत्म होने के कई घंटों बाद भी आयोग आकंड़े जारी क्यों नहीं कर रहा है?

 

केजरीवाल ने ट्वीट किया कि पूरी तरह चौंकाने वाला. चुनाव आयोग क्या कर रहा है? मतदान खत्म होने के कई घंटे के बाद भी वे मतदान प्रतिशत के आंकड़े क्यों जारी नहीं कर रहे हैं? आयोग ने शनिवार रात अंतिम मतदान प्रतिशत 61.46 फीसदी बताया था. राष्ट्रीय राजधानी में नई सरकार चुनने के लिए शनिवार शाम छह बजे मतदान खत्म हो गया था. आप के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने रविवार को पत्रकारों से कहा कि देश के इतिहास में शायद यह पहली बार हो रहा है कि चुनाव आयोग मतदान प्रतिशत का आंकड़ा जारी करने को तैयार नहीं है.

चुनाव आयोग से किया सवाल
संजय सिंह ने चुनाव आयोग से सवाल किया कि दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों का मत बताने में कितना समय लगता है. क्या कुछ पक रहा है. चुनाव आयोग को इसका जवाब देना चाहिए. जो वीडियो मैंने ट्वीट किया उसमें दिख रहा है कि ईवीएम सड़क पर उतारी जा रही हैं. रिजर्व ईवीएम को सड़क पर लेकर कैसे घूम सकते है. एक-एक विधानसभा की मॉनिटरिंग मैं खुद कर रहा था. मनोज तिवारी कह रहे हैं कि ईवीएम का रोना मत रोइये, क्यों कह रहे हो भाई. कुछ गड़बड़ किया है तो बता दीजिये. बता दें कि 11 फरवरी को दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजे आ जाएंगे.