नई दिल्ली: देश में फिलहाल लॉकडाउन लगा हुआ है. इस कारण कई लोग अपने अपने घरों से दूर फंसे हुए हैं. इसमें छात्र, मजदूर व अन्य लोग भी अपने घरों से दूर फंसे हुए है. इस बाबत छात्रों को अन्य राज्यों से वापस लाने को लेकर केंद्र सरकार की तरफ से अनुमति दे दी गई थी. इसी कड़ी में यूपी सरकार के बाद दिल्ली सरकार ने राज्य के छात्रों को कोटा राजस्थान के शहर कोटा से वापस लाने की तैयारियों में जुट चुकी है. Also Read - इस दिन खुलेगा प्रसिद्ध बालाजी मंदिर, हर दिन 6,000 भक्त कर पाएंगे दर्शन

इस बाबत मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक ट्वीट में कहा, “दिल्ली सरकार कोटा से छात्रों को जल्द वापस दिल्ली लाने के लिए व्यवस्था कर रही है. ” उत्तर प्रदेश सरकार अपने छात्रों को लाने के लिए यह व्यवस्था पहले ही कर चुकी है. कोटा मेडिकल और इंजीनियरिंग कोचिंग के लिए प्रसिद्ध है. देश भर के हजारों छात्र यहां कोचिंग लेने के लिए आए थे और लॉकडाउन की वजह से यहां फंस गए हैं. Also Read - कोविड-19 की भेंट चढ़ा हैदराबाद ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट, कोच पुलेला गोपीचंद ने किया रिएक्ट

बता दें कि इससे पहले योगी आदित्यनाथ ने कोटा में फंसे राज्य के बच्चों को वापस लाने के लिए बस भेजा था. इसके बाद उन्होंने वापिस लाए गए बच्चों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात भी की थी. इसी कड़ी में अब योगी प्रशासन बच्चों से सुरक्षा मद्देनजर यह जानने की कोशिश करेगी कि आखिर बच्चें कहां-कहां गए थे और किस किससे मिले थे.