नई दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को कहा कि दिल्ली सरकार के अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली पर काम चल रहा है और एक साल में यह पूरा हो जाएगा. वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए दादा देव मातृ अस्पताल के लिए एक मोबाइल ऐप और एक वेब आधारित ओपीडी पंजीकरण प्रणाली की शुरुआत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि अन्य अस्पतालों को भी इस प्रणाली को अपनाना चाहिए. Also Read - दिल्ली सरकार को हाईकोर्ट का झटका, निजी अस्पतालों में कोरोना मरीजों के लिए 80% ICU बेड रिजर्व रखने के आदेश पर रोक

उन्होंने कहा, ‘‘महिला मरीजों को लंबी कतारों में अब इंतजार करने की जरूरत नहीं है और अब वे पंजीकरण करा सकती हैं और इस ऐप के जरिए डॉक्टर से मिलने का समय ले सकती हैं. कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए भीड़भाड़ नहीं होनी चाहिए और सामाजिक दूरी का पालन करना चाहिए.’’ Also Read - अरविंद केजरीवाल की गैर भाजपा दलों से अपील- राज्यसभा में कृषि विधेयकों के खिलाफ करें वोट

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली (एचएमआईएस) के जरिए अस्पतालों, मोहल्ला क्लीनिकों और पॉलीक्लीनिकों को एकीकृत कर रही है और यह प्रक्रिया एक साल के भीतर पूरी हो जाएगी. उन्होंने कहा कि जैसे ही इस प्रणाली बन जाएगी, वैसे ही सरकारी अस्पतालों में लंबी कतारों और भीड़ से मुक्ति मिल जाएगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि दादा देव अस्पताल में बिस्तर क्षमताओं को 106 से बढ़ाकर 281 किया जा रहा है और इसे जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा. Also Read - Political Recation: राहुल और केजरीवाल ने पीएम को कुछ यूं दी जन्मदिन की शुभकामनाएं...जानिए किस नेता ने क्या कहा?

(इनपुट भाषा)