चंडीगढ़: आम आदमी पार्टी (आप) की पंजाब इकाई नेतृत्व में गुटबाजी का सामना कर रही है, यह जिक्र किए जाने पर पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने यहां रविवार को कहा कि ‘गंदे लोगों’ ने पार्टी छोड़ दी है. पार्टी अब एकजुट है. पंजाब के बरनाला कस्बे में एक रैली के दौरान केजरीवाल ने कहा, “आप को तोड़ने की कोशिशें होती रही हैं. मैं आप लोगों से कहता हूं कि आप हमेशा की तरह मजबूत है. सिर्फ गंदे लोगों ने पार्टी छोड़ी है. आप एकजुट और मजबूत है.’ Also Read - कृषि कानून: केजरीवाल ने पंजाब के CM को कहा 'ड्रामेबाज', तो अमरिंदर ने दिल्ली के सीएम को कहा 'अज्ञानी'

Also Read - सीएम केजरीवाल की 'रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ' अनूठी मुहिम शुरू, राघव चड्डा लोगों के बीच पहुंचे

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘लालची लोगों’ ने पार्टी छोड़ दी है और वे पार्टी का हिस्सा बने रहने के लिए उपयुक्त नहीं थे. केजरीवाल ने रविवार को लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार अभियान की शुरुआत की. संगरूर से आप के सांसद भगवंत मान की तारीफ करते हुए पार्टी प्रमुख ने कहा कि मान व अन्य लोग पंजाब में आप का परचम लहरा रहे हैं. केजरीवाल ने कहा कि मान के नेतृत्व में आप पंजाब की सभी 13 लोकसभा सीटों पर लड़ेगी. Also Read - Sports University in Delhi: दिल्ली में होगी वर्ल्ड क्लास स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी, सिसोदिया ने कहा- खेल की दुनिया में देश का नाम करेगी रौशन

अरविंद केजरीवाल नहीं लड़ेंगे अगला लोकसभा चुनाव, मोदी के खिलाफ दूसरे नेता को उतारने तैयारी

उन्होंने पंजाब में फरवरी, 2017 के विधानसभा चुनाव में लोगों से किए वादे पूरे न करने का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के नेतृत्ववाली कांग्रेस सरकार पर हमला बोला. केजरीवाल ने कहा, “मुझे बताइए, क्या किसानों के सभी कर्ज माफ हो गए? अमरिंदर सिंह की सरकार ने लोगों को निराश किया है.’ उन्होंने कहा कि दिल्ली में आप सरकार ने स्कूलों और स्वास्थ्य सेवाओं में मूलभूत बदलाव लाया है.