नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भाजपा और कांग्रेस सहित अन्य दलों का मूल चरित्र एक समान होने का दावा करते हुये कहा है कि इन दलों की राजनीति से निराश जनता हर चुनाव में सिर्फ सत्तारूढ़ दल को हराने के लिये वोट देने को मजबूर है. इसीलिये हाल ही में हुये तीन राज्यों के चुनाव में जनता ने भाजपा को हराया है, सही मायने में यह कांग्रेस की जीत नहीं है. Also Read - Pradhan Mantri Awas Yojana: पीएम मोदी ने गरीबों को भेजे 2700 करोड़ रुपए, खातों में आए या नहीं, ऐसे करें चेक

केजरीवाल ने शनिवार को आप की सर्वोच्च नीति निर्धारक ‘राष्ट्रीय परिषद’ की बैठक में विभिन्न प्रांतों से एकत्र हुये पार्टी प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कहा, पिछले 70 साल में देश नाउम्मीद हो चुका था क्योंकि देश की राजनीति ऐसी हो गयी थी कि हर पांच साल में जनता सरकारें बदलने पर मजबूर हो गई. अभी भी जो तीन राज्यों के चुनाव परिणाम आये हैं उनके नतीजे दिखाते हैं कि कांग्रेस जीती नहीं है बल्कि भाजपा की हार हुयी है. केजरीवाल ने दिल्ली सरकार के चार साल के कामों का जिक्र करते हुये कहा, हम जनता की उम्मीदों पर खरे उतरे है जिसकी बदौलत ही ‘एंटी इन्कम्बेन्सी’ (सत्ताविरोधी लहर) की अवधारणा अब ‘प्रो इन्कम्बेन्सी’ में तब्दील हो गई है. उन्होंने कहा कि दिल्ली में सत्ता का सदुपयोग करके आप ने लोगों का यह विश्वास जीता है. Also Read - Rajasthan Latest News: सचिन पायलट समर्थक MLA गजेंद्र सिंह शक्तावत का निधन, CM गहलोत ने जताया शोक

‘मोदी जी ने दिया है प्रणाणपत्र’
इस दौरान केजरीवाल ने दिल्ली सरकार के कामकाज में केन्द्र सरकार द्वारा हरसंभव बाधायें उत्पन्न करने और केन्द्रीय जांच एजेंसियों से आप नेताओं को प्रताड़ित एवं अपमानित करवाने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा, मोदी सरकार ने दिल्ली सरकार की चार सौ फाइलों की जांच करा ली लेकिन कुछ नहीं मिला. मैं तो मानता हूं कि आज हमें ईमानदारी का प्रमाणपत्र मोदी जी ने दिया है. उन्होंने मोदी सरकार को राफेल सहित अन्य मामलों की महज चार फाइलें ही दिखाने की चुनौती देते हुये कहा, आपने दिल्ली सरकार की चार सौ फाइलों देख लीं तो अब अपनी भी तो चार फाइल दिखा दें. Also Read - बजट से पहले सर्वदलीय बैठक का आयोजन, पीएम नरेंद्र मोदी करेंगे अध्यक्षता

‘बीजेपी-कांग्रेस एक ही सिक्के के दो पहलू’
केजरीवाल ने भाजपा और कांग्रेस को एक ही सिक्के के दो पहलू बताते हुये कहा ‘‘हमारे खिलाफ जब भी पुलिस का छापा पड़ता है तो सबसे पहले कांग्रेसी जश्न मनाते हैं. इस दौरान केजरीवाल ने शुक्रवार की रात को हरियाणा में आप कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किए जाने की आलोचना करते हुये हरियाणा की खट्टर सरकार पर जातिवादी राजनीति करने का आरोप लगाया. उन्होंने सोशल मीडिया पर खट्टर विरोधी बयानबाजी करने के आरोप में आप के 40 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किये जाने का दावा करते हुये भाजपा पर पूरे देश में आतंक का माहौल बनाने का आरोप लगाया.