आम आदमी पार्टी (आप) ने रविवार को उन अटकलों को खारिज कर दिया कि उसके राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पंजाब में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर पेश किया जा सकता है।Also Read - पंजाब चुनाव में Avengers के सुपरहीरो की एंट्री! 'Thor' बने चन्नी तो राहुल गांधी 'Hulk'- कांग्रेस का कैंपेन वीडियो Viral

Also Read - Punjab Opinion Poll: दोआब में शिरोमणि अकाली दल बन सकता है सबसे बड़ी पार्टी, AAP को 3-4 सीटें मिलने का अनुमान

आप के राष्ट्रीय प्रवक्ता आशुतोष कुमार ने बताया कि यह निराधार है। यह सब अफवाह है। इसमें कोई तथ्य नहीं है। केजरीवाल दिल्ली सरकार नहीं छोड़ेंगे। Also Read - Punjab Opinion Poll: मालवा क्षेत्र में AAP सबसे बड़ी पार्टी, कांग्रेस को नुकसान होने का अनुमान

उन्होंने कहा कि पार्टी ने पंजाब विधानसभा चुनावों के लिए अभी तक अपने मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर कोई फैसला नहीं किया है। उन्होंने कहा कि पार्टी पहले यह फैसला करेगी कि उस पद के लिए किसी को पेश किया जाए या नहीं।

शुतोष ने आगे चर्चा करते हुए कहा कि ‘हमने यह फैसला नहीं किया है कि मुख्यमंत्री पद के लिए कौन उम्मीदवार होगा। हमारा मानना है कि भविष्य में लोकतांत्रिक प्रक्रिया से नेता उभरेंगे। यह भी पढ़ें: पंजाब चुनाव में जीत हासिल करेगी आप : केजरीवाल

arvind-kejriwal

हमारे पास कई योग्य नेता हैं और उनमें से कोई भी जिम्मेदारी निभा सकते हैं।’ ‘आप’ नेता ने कहा कि सही वक्त पर, लोकतांत्रिक प्रक्रिया से नेता उभरेंगे। हर कोई यह सवाल कर रहा है कि पंजाब या गोवा में मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार कौन होगा।

इसके बारे में लोकतंत्र को फैसला करने दीजिए। उन्होंने कहा, ‘किसी चेहरे के साथ या बिना किसी चेहरा के चुनाव में उतरा जाए, इस बारे में पार्टी को फैसला करना है।’ उन्होंने कहा, ‘यह रणनीति की बात है कि हम मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के साथ आगे बढ़ें या नहीं।’

aap5

केजरीवाल का मुख्य ध्यान अब दिल्ली के अलावा पंजाब और गोवा पर होगा। उन्होंने बताया कि पार्टी हर राज्य में अपना सांगठनिक आधार बढ़ाने का प्रयास कर रही है। उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, गुजरात, राजस्थान, छत्तीसगढ़, हरियाणा, महाराष्ट्र और सभी दक्षिणी राज्यों में प्रमुखता से काम हो रहा है।’

उन्होंने कहा, ‘पार्टी जानती है कि उसकी राष्ट्रीय अपील है। लेकिन चुनावी समर में उतरने से पहले वह अपना संगठन मजबूत करना चाहेगी। जब हमारा संगठन दुरूस्त हो जाएगा, तब पार्टी फैसला करेगी कि चुनाव लड़ा जाए या नहीं।’

ashutosh-0945

एक सवाल के जवाब में आशुतोष ने इस बात से इनकार किया कि गोवा और पंजाब में चुनाव प्रचार के दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अनुपस्थिति से उनकी सरकार का कामकाज प्रभावित होगा। उन्होंने कहा, ‘दिल्ली में पर्याप्त प्रतिभा है। हमारे उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया एक सक्षम कैबिनेट मंत्री हैं।’

News Source-NDtv