हैदराबाद: एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने पाकिस्तान से शनिवार को कहा कि वह कश्मीर के मामलों में दखल देना बंद करे. उन्होंने यह भी कहा कि कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है और बना रहेगा. हैदराबाद के सांसद ने कहा कि केंद्र में चाहे वह कांग्रेस हो या भाजपा, कश्मीर घाटी में हालात सामान्य करने के लिए उनके पास कोई नीति, दूर दृष्टि नहीं रही है. Also Read - पाकिस्तान के संघर्ष विराम उल्लंघन में घायल भारतीय जवान शहीद

Also Read - पाकिस्तान की अदालत ने मुंबई हमले के षडयंत्रकर्ता हाफिज सईद के तीन सहयोगियों को सुनाई सजा

उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि कश्मीर पर नीति में निरंतरता रहनी चाहिए लेकिन दुर्भाग्य से उसका अभाव है.’ ओवैसी ने एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि भाजपा नीत केंद्र सरकार कश्मीरी पंडितों के लिए कुछ नहीं कर रही है. उन्होंने कहा, ‘‘कश्मीर समस्या का हल जेम्स बॉंड या रैम्बो शैली में नहीं होना चाहिए…’ Also Read - आखिर किस वजह से जम्मू-कश्मीर के कैदियों को आगरा जेल स्थानांतरित किया गया, जानें पूरी डिटेल्स

ओवैसी ने दी पाक पीएम इमरान खान को नसीहत, कहा- भारत से कुछ सीखें

ओवैसी ने कहा कि पाकिस्तान को कश्मीर मामलों में दखलंदाजी बंद करना चाहिए. उन्होंने यह भी कहा हाल ही में इस्तीफा देने वाले 2010 बैच के आईएएस अधिकारी शाह फैसल को अपनी खुद की स्वतंत्र राजनीतिक राह चुननी चाहिए. कश्मीर को इसी की जरूरत है.