नई दिल्ली: देश भर से आईं लगभग 90 ‘आशा’ प्रतिनिधियों के एक समूह ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी से भेंट कर हाल ही में प्रोत्साहन राशि में बृद्धि एवं बीमा कवर की घोषणा किए जाने पर आभार प्रकट किया. प्रधानमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से पूरे देश में आशा और आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के साथ हुए अपने हालिया संवाद को स्‍मरण किया.

 

प्रधानमंत्री कार्यालय की विज्ञप्ति के अनुसार, मोदी ने उस दिन आशा प्रतिनिधियों द्वारा साझा किए गए अनुभवों और व्यक्तिगत वृत्तांत की सराहना की. उन्‍होंने कहा कि ये अनुभव निश्चित रूप से अनगिनत लोगों के लिए प्रेरणादायक साबित होंगे. बातचीत के दौरान आशा कार्यकर्ताओं ने अपने कुछ और अनुभवों एवं व्यक्तिगत वृत्तांत को साझा करते हुए बताया कि किस तरह से उन्‍होंने बिल्‍कुल सही समय पर उचित कदम उठाकर गरीब माताओं और उनके बच्चों की बहुमूल्‍य जिंदगी बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. प्रधानमंत्री ने आशा कार्यकर्ताओं के अदभुत कौशल एवं समर्पण की भूरि-भूरि प्रशंसा की. प्रधानमंत्री ने अपने-अपने गांवों में लोगों का जीवन स्‍तर बेहतर बनाने के लिए विभिन्न सरकारी एजेंसियों के साथ मिलकर काम करने में अपनी ऊर्जा समर्पित करने के लिए उन्‍हें प्रोत्साहित किया.

आशा और आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के मानदेय में वृद्धि, मेनका गांधी ने कहा, थैंक्यू पीएम

आशा कार्यकर्ताओं के प्रयासों की काफी सराहना की
उन्होंने विस्‍तार से यह भी बताया कि किस तरह से समस्‍त सरकारी योजनाओं और पहलों का उद्देश्‍य गरीबी से लड़ने की खातिर गरीबों को सशक्त बनाना है. इसके साथ ही उन्‍होंने कहा कि बिल एवं मेलिंडा गेट्स ने भी कालाजार जैसी जानलेवा बीमारियों के उन्मूलन की दिशा में आशा कार्यकर्ताओं के प्रयासों की काफी सराहना की है. इस अवसर पर केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जे पी नड्डा भी उपस्थित थे. (इनपुट एजेंसी)