नई दिल्ली: राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gahlot) ने राजस्थान में चल रही तनातनी को लेकर बयान दिया है. गहलोत ने पीएम मोदी (PM Narendra Modi) को लिखे पत्र को लेकर कहा कि मैंने उन्हें पत्र लिखा है. ऐसा इसलिए किया ताकि कभी जब उनसे मिलूं तो तब वह ये न कहें कि उन्हें कुछ मालूम नहीं था. Also Read - अशोक गहलोत ने कांग्रेस विधायकों को क्यों दिलाई अटल बिहारी वाजपेयी की याद, लिखा ये पत्र

अशोक गहलोत (Ashok Gahlot) ने कहा कि लोकतंत्र है, इसलिए पीएम मोदी को पत्र लिखा. पीएम मोदी को इस मामले की पूरी तरह से जानकारी होनी चाहिए. बता दें कि एक दिन पहले ही अशोक गहलोत ने पीएम मोदी को एक बेहद बेबाक पत्र लिखा था. इस पत्र में उन्होंने लिखा था कि राजस्थान की कांग्रेस सरकार (Rajasthan Congress Government) गिराने की कोशिश की जा रही है, ऐसा कृत्य करने वालों को इतिहास माफ़ नहीं करेगा. उन्होंने यह भी लिखा कि केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत का नाम भी लिखा कि कुछ और ऐसे लोग हैं जो ऐसी कोशिशें कर रहे हैं. Also Read - देश में होगा बड़ी हथियार प्रणालियों का निर्माण, 15 अगस्त को आत्मनिर्भर भारत की रूपरेखा प्रस्तुत करेंगे पीएम: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

अशोक गहलोत ने आज कहा कि हमें कोर्ट के फैसले का इंतज़ार है. हमें न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है. न्यायपालिका है तो देश बचा है. एक स्तम्भ मीडिया भी है. पत्रकारों से कोई शिकायत नहीं है, लेकिन ये दौर गोदी मीडिया (Godi Media) का है. Also Read - अंडमान निकोबार को अब बाहरी दुनिया से डिजिटल संपर्क में कोई समस्या नहीं आएगी: पीएम मोदी