नई दिल्ली: राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gahlot) ने राजस्थान में चल रही तनातनी को लेकर बयान दिया है. गहलोत ने पीएम मोदी (PM Narendra Modi) को लिखे पत्र को लेकर कहा कि मैंने उन्हें पत्र लिखा है. ऐसा इसलिए किया ताकि कभी जब उनसे मिलूं तो तब वह ये न कहें कि उन्हें कुछ मालूम नहीं था.Also Read - Amar Jawan Jyoti: गणतंत्र दिवस 2022 से पहले अमर जवान ज्योति को राष्ट्रीय युद्ध स्मारक की लौ में मिलाने का सरकार फैसला

अशोक गहलोत (Ashok Gahlot) ने कहा कि लोकतंत्र है, इसलिए पीएम मोदी को पत्र लिखा. पीएम मोदी को इस मामले की पूरी तरह से जानकारी होनी चाहिए. बता दें कि एक दिन पहले ही अशोक गहलोत ने पीएम मोदी को एक बेहद बेबाक पत्र लिखा था. इस पत्र में उन्होंने लिखा था कि राजस्थान की कांग्रेस सरकार (Rajasthan Congress Government) गिराने की कोशिश की जा रही है, ऐसा कृत्य करने वालों को इतिहास माफ़ नहीं करेगा. उन्होंने यह भी लिखा कि केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत का नाम भी लिखा कि कुछ और ऐसे लोग हैं जो ऐसी कोशिशें कर रहे हैं. Also Read - इंडिया गेट पर लगेगी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की भव्य प्रतिमा, फिलहाल होलोग्राम स्टैच्यू दिखेगा; जानें क्या है होलोग्राम तकनीक

अशोक गहलोत ने आज कहा कि हमें कोर्ट के फैसले का इंतज़ार है. हमें न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है. न्यायपालिका है तो देश बचा है. एक स्तम्भ मीडिया भी है. पत्रकारों से कोई शिकायत नहीं है, लेकिन ये दौर गोदी मीडिया (Godi Media) का है. Also Read - Punjab Opinion Poll 2022 , Janta ka Mood: जानें पंजाब में किस पार्टी को फायदा, कौन सत्ता के कितने करीब