गुवाहाटी: असम में बाढ़ से बस्तियों के हालात सोमवार को और बिगड़ गए. राज्य के 13 जिलों में 3.18 लाख लोग बाढ़ की चपेट में आ गए हैं. कई लोगों की मौत भी हो गई है. अधिकारियों ने यह बात कही. असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अधिकारियों ने कहा कि कोविड-19 संकट के बीच तीसरी बार बाढ़ आई है. इससे 13 जिलों के 390 गांवों में 13,500 हेक्टर में लगी फसल डूब गई है.Also Read - Flood Warning in Chennai: चेन्नई में बारिश से बिगड़े हालात, बाढ़ की चेतावनी जारी

उन्होंने कहा कि नागांव जिले में एक व्यक्ति की मौत हो गई है और धेमाजी जिले में एक व्यक्ति लापता है. राज्य में इस साल बाढ़ से अब तक 119 लोगों की मौत हो चुकी है. बता दें कि इससे पहले भी असम में महीने भर पहले भीषण बाढ़ आ चुकी है. ऐसे में राज्य में लाखों लोग इससे प्रभावित हुए थे व कई जिले जलमग्न हो गए थे. Also Read - 'नैनीताल में फंसे यात्रियों की मजबूरी का फायदा उठा रहे टैक्सी ड्राइवर, वसूल रहे हैं ज्यादा किराया'

वहीं बाढ़ का प्रकोप जंगली जीवों पर भी देखने को मिला. कांजीरंगा नेशनल पार्क में बाढ़ के कारण कई जानवरों की मौत भी हो गई. हालांकि इस दौरान NDRF और राहत बचाव दलों द्वारा कई गांवों व जिलों में काफी बेहतर काम किया गया और समय से पहले कई जगहों पर लोगों को रेस्क्यू कर लिया गया. बता दें कि बाढ़ से अबतक 119 लोगों की मौत हो चुकी है. Also Read - सिक्किम में भारी बारिश के कारण रांग्पो ब्रिज का री-इनफोर्समेंट पिलर बहा, देखें तस्वीरें

(इनपुट-आईएएनएस)