नई दिल्ली: कोरोना वायरस के चलते हुए लॉकडाउन के बीच 25 मई से देश में घरेलु हवाई सेवाएं शुरू हो रही हैं. आज ही उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने इसे लेकर कई जानकारी साझा की. वहीं, असम ने इसे लेकर बड़ा ऐलान कर दिया है. असम में हवाई यात्रा कर जो भी पहुंचेगा, उसे क्वारंटाइन किया जाएगा. Also Read - अनुष्‍का शर्मा की सनशाइन वाली पिक्‍चर पर फ्लैट हुए विराट कोहली, इंस्‍टाग्राम पर इस अंदाज में दिया जवाब

ये बात असम के स्वास्थ्य मंत्री हेमंत बिश्व सरमा ने कही है. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि हवाई सफ़र करके आने वालों को 14 दिन के क्वारंटाइन में रहना होगा. ये नियम हर किसी पर लागू होगा. चाहे वह कोई भी हो. चाहे पर कितना ही ताकतवर क्यों न या कितना ही पहुंच वाला क्यों ही न हो, उसे इस नियम का पालन करना ही पड़ेगा. Also Read - इस दिन खुलेगा प्रसिद्ध बालाजी मंदिर, हर दिन 6,000 भक्त कर पाएंगे दर्शन

स्वास्थ्य मंत्री हेमंत बिश्व सरमा ने कहा कि अगर किसी ने ये नियम नहीं माना तो उस पर कार्रवाई की जाएगी. उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर मुकदमा दायर कराया जाएगा. ये नियम नहीं मानना अपराध माना जाएगा. बता दें कि असम बीजेपी शासित राज्य है. कई जगहों पर ट्रेन से पहुँचने वाले यात्रियों के लिए भी क्वारंटाइन में रहना अनिवार्य किया गया है. Also Read - बोनी कपूर और बेटियों समेत सामने आई स्टाफ मेंबर्स की कोरोना रिपोर्ट

असम में भी कोरोना वायरस का असर है, लेकिन अभी बहुत ज्यादा नहीं है. असम में अब तक 157 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि 41 लोगों को ठीक किया जा चुका है. असम कोरोना को रोकना चाहता है. यही वजह है कि उसे एहतियात बरतते हुए हवाई सफ़र करके राज्य में पहुँचने वालों के लिए क्वारंटाइन में रहना अनिवार्य कर दिया है. हालाँकि केंद्र सरकार ने हवाई सफ़र करने वालों के लिए कई नियम बनाए हैं, ताकि कोरोना भी साथ में सफ़र न कर सके.