आइजोल: असम (Assam) के साथ सीमा पर हिंसक संघर्ष के बीच मिजोरम (Mizoram) के मुख्यमंत्री जोरामथांगा ने कहा है कि पूर्वोत्तर भारत हमेशा एक रहेगा. असम ने अपने नागरिकों को मिजोरम नहीं जाने की सलाह दी है. जोरामथांगा ने अपनी सरकार द्वारा जारी एक अधिसूचना को ट्विटर पर साझा करते हुए कहा है कि असम के कछार जिले के साथ लगते मिजोरम के कोलासिब जिले में राज्य के अनिवासी व्यक्तियों की आवाजाही पर कोई पाबंदी नहीं होगी.Also Read - IAF का फाइटर जेट Su-30 MKI नए स्वदेशी हथियारों से लैस, चीन को तुरंत जवाब देने को तैयार, देखें उड़ान का वीडियो

मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, ‘‘पूर्वोत्तर भारत हमेशा एक रहेगा.’’ असम सरकार द्वारा यात्रा परमर्श जारी करने के एक दिन बाद जोरामथांगा का बयान आया है. असम ने अपने नागरिकों से मिजोरम की यात्रा नहीं करने और वहां रहने वाले निवासियों से सतर्क रहने के लिए कहा है. Also Read - River Cruise: जानिये कब चलेगी देश की सबसे बड़ी 'रिवर क्रूज' जिससे वाराणसी से असम तक नाव का सफर करेंगे टूरिस्ट?

इस बीच, सीमा विवाद को लेकर अब भी गतिरोध बना हुआ है और दोनों राज्यों की पुलिस ने सोमवार की हिंसा को लेकर आपराधिक मामले दर्ज किए हैं. हिंसा में असम के सात लोगों की मौत हो गई और 50 से अधिक लोग घायल हो गए. Also Read - असम: अंसारुल्लाह बांग्ला टीम से जुड़े दो और संदिग्ध आतंकी गिरफ्तार